Meta Tag in Digital Marketing कि दुनिया मे एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं क्योंकि वे SERPs में आपकी साइट कैसे दिखाई दे इस बात को प्रभावित करता हैं साथ ही  कितने लोग आपकी वेबसाइट visit करते है इस बात के लिए भी एक निर्णायक भूमिका निभाता है। सीधे शब्दों में कहें तो, वे आपके ट्रैफ़िक को प्रभावित कर सकते है ,साथ ही आपके SEO और रैंकिंग को भी प्रभावित कर सकता हैं। Meta Tags Digital Marketing का एक ठोस SEO तकनीति का हिस्सा हैं। 

हालांकि कुछ टैग ऐसे भी है जिनका रैंकिंग पर सीधा असर नहीं होता है, लेकिन वे आपकी Digital presentations को ज़रुर प्रभावित कर सकता हैं । search engines पर आपकी साइट की visibility को बढ़ाने के लिए मेटा टैग का उपयोग किया जाना बहुत ही ज़रुरी है।

लेकिन एक गलत मेटा टैग आपकी वेबसाइट की SEO रैंकिंग पर बुड़ा  प्रभाव ढाल सकता हैं। अगर आप एक वेबसाइट owner है या फिर आप एक website run करने की सोच रहै तो आपके लिए मेटा टैग के वारे पुरी जानकारी का होना बहुत ही ज़रुरी है।

इस Article मे आप जानेंगे कि मेटा टैग क्या होता हैं,वे कितने प्रकार है, वे SEO और रैंकिंग के लिए कितना मायने रखता हैं, और आप इन सवका लाभ केसे उठा सकते है।

Meta Tag in Digital Marketing in Hindi?

Meta-tags HTML का स्निपेट हैं जो Google, बिंग आदि जैसे सर्च इंजनों द्वारा क्रॉल किए जाने में सक्षम हैं। ये SEO का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। मेटा टैग दस्तावेज़ो की HTML भाषा में वेब पेजों के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं। इन्हें “मेटाडेटा” के रूप में भी जाना जाता है। मेटा टैग HTML दस्तावेज़ के <head> section में रखे जाते हैं और वे users के लिए प्रदर्शित नहीं होता हैं, इसे सिफ॔ सर्च इंजन और वेब क्रॉलर द्वारा ही पढ़ा जा सकता है। Google जैसे Search engine मेटाडेटा का ईस्तेमाल बेहतर ढंग से समझने और वेबपेज के बारे में अतिरिक्त जानकारी एकत्रित करने के लिए करते हैं ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि कोई वेबसाइट किस बारे मे है।

संक्षेप में, खोज इंजन इन tags का ईस्तेमाल रैंकिंग कि उद्देश्यों से, और search results में एक snippet प्रदर्शित करने के लिए करते हैं।

हालांकि ,कई अलग-अलग प्रकार के मेटा टैग हैं जो अलग-अलग भूमिका निभाते हैं, और ये सभी SEO के लिए प्रासंगिक नहीं होता हैं। यहां मैं कुछ सबसे महत्वपूर्ण meta tags पर ध्यान केंद्रित करूंगा जो किसी भी वेबसाइट के एसईओ के लिए प्रासंगिक हैं।

Meta tag html in hindi.

किसी भी वेबसाइटों के लिए, मेटा टैग की कमी , search results में ranking का  सुनेरे अवसर को खो देता हैं।HTML एक ऐसी शक्तिशाली कंप्यूटर भाषा मार्कअप है जो आपको विभिन्न तरीकों से किसी दस्तावेज़ के बारे में अतिरिक्त जानकारी को मेटाडेटा के जरिए specify करने का मौका देता है। META elements के उपयोग  HTML के दस्तावेज़ो का वर्णन करने के लिए किया जाता है, जैसे कि author document, date, कीवर्ड की सूची आदि जैसी और भी बहुत सारी।

सामान्य तौर पर, मेटा टैग का दस्तावेज़ एक website कि external look को  प्रभावित नहीं करता, इसलिए इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि आप उन्हें शामिल करते हैं या नहीं। लेकिन,SEO के लिहाज है कुछ ऐसी मेटा टैग है जिन्हें आपके website पर जोड़ना वेहद जरुरी है।
आप उन्हें header section के अंदर <मेटा> टैग attribute के साथ अपने वेब पेजों में उन्हें जोड़ सकते हैं, जो कि <head> और </head> टैग के विज के हिस्से कोदर्शाया जाता है।

Use of Meta Tag in html in Hindi.

आपके web page किस बारे मे है, इसके बारे में search engines को डेटा प्रदान करने के लिए HTML और XHTML दस्तावेज़ों में Meta tag का use किया जाता है।ये हेड सेक्शन का एक हिस्सा हैं। ऐसे तो विभिन्न प्रकार के meta attributes हैं जिनका उपयोग same page पर किया जा सकता है। दरअसल, किसी वेबपेज के पेज विवरण और कीवर्ड को निर्दिष्ट करने के लिए meta elements का उपयोग किया जाता है।

मेटा तत्व का उपयोग दो तरह से किया जा सकता है:
HTTP response header fields का उपयोग करके और HTML दस्तावेज़ के भीतर अतिरिक्त मेटाडेटा एम्बेड करके भी किया जा सकता है।ऐसे तत्वों को HTML या XHTML दस्तावेज़ के मुख्य भाग में tag के रूप में रखा जाता है।

इन elements के दो अलग-अलग भाग हैं:

  • Title Tag
  • Meta Description Tag

Meta tag example in hindi.

यहाँ नीचे दिए गए इस उदाहरण से आप समझ सकते है कि, वे कैसे दिखता हैं। 

<head>

<meta charset=”UTF-8″>

<meta name=”description” content=”DIGIPOLE HINDI -DIGITAL MARKETING में आपका स्वागत है, यह ब्लॉग डिजिटल मार्केटिंग से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आप तक पहुँचाने का काम करता है।”>

<meta name=”keywords” content=” Digital Marketing in Hindi.”>

<meta name=”author” content=”Biswajit”>

<meta name=”viewport” content=“width=device-width, initial-scale=1.0”>

<meta name=”robots” content= “index, follow”>

</head>

How meta tag useful for search engine in Hindi?

मेटा टैग खोज इंजन को आपके वेब पेज के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जुटाते हैं, जैसे कि खोज परिणामों में उन्हें कैसे प्रदर्शित करना चाहिए और वेब ब्राउज़र को  भी बताते हैं कि इसे visitors के लिए कैसे प्रदर्शित किया जाए।

Search engines यह पता लगाने मे काफी स्मार्ट हैं कि page content, titles, और meta descriptions में आपके द्वारा कौन सा कीवर्ड का उपयोग किया गया है। इसलिए, अपको इन पर ध्यान केंद्रित करना होगा, क्योंकि SERP के दृष्टिकोण से यह SEO और रैंकिंग का एक अनिवार्य हिस्सा है।

सरसल, एक metadata डेटा के बारे में डेटा है और हमेशा <head> element के अंदर होते हैं। मेटाडेटा pages पर प्रदर्शित नहीं होता है, लेकिन यह search results page पर आपकी पुरि वेबसाइट कि behavior को तय कर सकता है।

मेटा टैग इसलिए भी जरुरी हैं ,क्योंकि वे आपकी साइट को SERPs के लिए प्रभावित करता हैं ,जो यह तय करता है कि वे SERPs में केएसा दिखाई देगा और लोग आपकी वेबसाइट पर क्लिक करने के लिए आपकी साइट के साथ कैसे प्रतिक्रिया देंगे, जो आपके SEO और रैंकिंग को प्रभावित कर सकता है। मेटा टैग एक अच्छे एसईओ अभ्यास का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।

Important Meta Tags for SEO in hindi.

ऐसे तो Meta Tag in digital marketing मे कई सारे Meta Tags होते है, पर इस मे से हर एक Tag जरुरी नही होता है।

कुछ अहम और जुरुरी मेटा टैग के बारे मे यहा निचे दिया गया है।

  • Header tags.
  • Title tag.
  • Meta description.
  • Canonical meta tag
  • Language Meta Tag.
  • Alternative text tag.
  • Robots meta tag.
  • Social meta tags.
  • Viewport meta tag in Html

Header tags:-

Headings वेबपेज का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, जिसे बेहतर ढंग से व्यवस्थित करने और visitors के लिए क्रमिक रूप से पढ़ने में आसान बनाने के लिए है। यह एक अच्छा SEO तकनीक भी है।एक Headings bots को इस बारे में महत्वपूर्ण जानकारी provide करता है कि यह पेज क्या और किस वारे मे है जोकि Search Engine Optimization (SEO) के लिए बेहद ही जरुरी है। यह आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन के लिए वेबपेजों को crawl और index करना आसान बनाता हैं। इस पर कोई गलती, आपके वेबपेजों को crawl करने नहीं देगा और वे कभी भी SERP पर रैंक नहीं कर पाएगा। H1 से H6 तक विभिन्न प्रकार के हेडर टैग हैं, जिन्हें H1 से H6 तक संख्याओं द्वारा apply किया जाता है।

आप नीचे दिए गए उदाहरण से Title की संरचना को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं। 

<header>
 
         <h1>Here is your page Title </h1>
 
 <header/>

Title tag.

‘टाइटल टैग’ सर्च इंजन लिस्टिंग में दिखाई देने बाले टेक्स्ट टाइटल है। शीर्षक टैग एक HTML तत्व है जो निर्दिष्ट करता है कि आपका वेब पृष्ठ किस बारे में है। Title tags SEO के लिए और साथ ही visitors के लिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे search engine results pages (SERPs)और ब्राउज़र टैब में भी दिखाई देते हैं।

<head>
 
  <title>This is a Title tag</title>
 
</head

Meta description.

meta description एक HTML element है जो वेब पेजों की content को सारांशित करता है।Search engines आमतौर पर उन्हें title tag के नीचे search results में दिखाते हैं। एक अच्छा मेटा description लिखने में वर्णों की एक सीमा होती है। यह वर्णो में 160 तक सर्वश्रेष्ठ होता है। लेकिन कुछ सर्च इंजन इस अधिकतम वर्णो का समर्थन नहीं करते हैं, परिणामस्वरूप विवरण को स्निपेट के अनुसार काट दिया जाता है।Meta description हमेशा title के निचे show होता है।एक Meta description, search engine results पर निचे दिए गए image जैसा दिखाई देता है। 

Meta Tag in Digital Marketing in Hindi
 

Canonical meta tag.

Canonical टैग एक HTML लिंक टैग है। इस टैग का ईस्तेमाल सर्च इंजन को यह बताने के लिए किया जाता है कि इस वेबपेज के अन्य संस्करण भी हैं। एक विहित टैग के साथ, आप खोज इंजनों को बताते हैं कि यह URL मुख्य पृष्ठ है और खोज इंजन को अन्य समान पृष्ठों को अनुक्रमित नहीं करना चाहिए।
canonical टैग का सिंटैक्स यहां दिया गया है:

<link rel=”canonical” href=”https://digipole.in/” />

Language Meta Tag.

language tag एक HTML meta tag है जो प्रासंगिक भौगोलिक क्षेत्र के लिए वेबपेज की भाषा को निर्दिष्ट करता है। इसे Hreflang tag के रूप में भी जाना जाता है जो खोज इंजन को बताता है कि प्रासंगिक भाषाओं में content को कहां खोजना है।

<link rel=”alternate” hreflang=”en” href=”https://www.digipole.in”>

Alternative text tag(Alt text).

Alternative text tags सर्च इंजन को वेबपेज की छवि के बारे में बताने के लिए किया जाता है। सर्च इंजन आमतौर पर किसी वेबपेज की इमेज को पढ़ने में असमर्थ होते हैं। Alt text कि उपयोग से खोज इंजन छवियों को समझते हैं।

<img src=” https://digipole.in/image id.jpg” alt=”text” />

Robots meta tag.

आपकी साइट की कुछ content, search engines के लिए अनावश्यक होता है। pages के ऐसे भागों के indexing को रोकने के लिए, आप रोबोट के मेटा टैग का उपयोग कर सकते हैं। रोबोट मेटा टैग को रोबोट टैग के रूप में जाना जाता है, यह HTML कोड  है जिसे वेब पेज के <head></head>  के बीच में रखा जाता है। इस टैग का उपयोग यह नियंत्रित करने के लिए किया जाता है कि खोज इंजन ऐसे URL को कैसे crawl और index करे।
रोबोट मेटा टैग का सिंटेक्स नीचे दिए गए जैसा है।

<meta content=’noindex,nofollow’ name=’robots’/>

Social meta tags.

यह meta tags सोशल मीडिया पर webpage कि content को साझा करने के लिए किया जाता है । Social मेटा टैग आपकी  pages कि visibility को बडा सकते हैं और आपकी वेबसाइट के लिए ट्रैफ़िक generate करने में मदद कर सकते हैं।साथ ही यह अधिक क्लिक और शेयर के साथ आपकी content को जादा आकर्षक बना सकता है।

सोशल मीडिया से अधिकतम विज़िटर्स को पाने के लिए दो मुख्य Social meta tags का उपयोग किया जा सकता है जो Digital Marketing के तौर पर बेहद जरुरी है।-

  • Open Graph tags
  • Twitter card tags

Viewport meta tag

Viewport वेब पेज का एक visible area होता है।यह डिवाइस के साथ बदलता रहता है, क्योंकि यह मोबाइल फोन पर छोटा होता है और कंप्यूटर स्क्रीन पर बड़ा होता है।अगर किसी webpage को छोटे  viewport के लिए responsive नहीं किया जाता है तो वे छोटे viewport या screen पर सही से दिखाई नही परता है। इस problem को ठीक करने के लिए और इसकी सही नियंत्रन के लिए एक responsive टैग को तैयार किया गया है ,जिसे HTML document के header में जोड़ा जाना है। इस टैग को सबसे पहले Apple ने Safari iOS के लिए design किया था।
 viewport का syntax निचे दिए गए कुछ इस तरह दिखाई देता है-

<meta name=”viewport” content= “width=device-width, initial-scale=1.0”>

Meta tags ko Kaise optimize kare?

अब तक हमने Meta Tag in Digital Marketing कि Importance को जाना , आगे और जानते है कि Meta tags ko Kaise optimize किया जाता है।एक meta tag खोज इंजन और users दोनों के लिए मददगार हो सकता है। वे आपकी वेबसाइट के user experience को बेहतर बनाने के साथ-साथ आपकी साइट कि authority और SERP में उच्च रैंकिंग दिला सकते हैं।अगर आप मेटा टैग के साथ अपनी साइट के लिए एक बेहतर प्रदर्शन चाहते हैं, तो यहां कुछ सुझाव दिया गया है:

  • सबसे पहले, जांचें कि आपके सभी pages में title tags और meta descriptions वरावर हैं या नहीं।
  • अपने headings और इसकी structure पर ध्यान दें।
  • Images पर alt text मौजुद है इसे सुनिश्चित करें।
  • रोबोट मेटा टैग का उपयोग करके खोज इंजनों को यह निर्देश दे कि वे आपके pages को केसे access करे।
  • Duplicate Content कि issues से वचने के लिए canonical tags का Use करे।
  • Mobile Friendly Tool के मदद से आपके सभी webpages  Mobile Responsive हे यह सुनिश्चित करें।

Conclusion.

कोडिंग की दुनिया में उपर्युक्त tags के अलावा और भी बहुत सारे मेटा टैग हैं। लेकिन उनमें से बहुत सारे इतने आवश्यक नहीं हैं। उनमें से बहुत से tags वास्तव में आपकी रैंकिंग को नुकसान पहुंचा सकते हैं। आपको हमेशा उन meta tags का उपयोग करना चाहिए जो search engine’s Bots के पक्ष में हैं। और visitors के बीच एक अच्छा user experience बना सकता है।

मुझे उम्मीद है कि, अब आप समझ गए होंगे कि एक टैग क्या है और Meta Tag in Digital Marketing की क्या भूमिका है।

About The Author

BISWAJIT

Hi! Friends, this is Biswajit, the founder and author of 'DIGIPOLE HINDI'. He is interested in gathering valuable information related to digital marketing, such as affiliate marketing, blogging, earning money online, SEO, Adsense, technology, SEO tools, etc, and conveying the people in the form of articles.

Author:- I hope you will be able to get enough valuable information from this site and enjoy it. Thank you.

Author and Founder digipole hindi

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, AdSense, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *