किसी भी नौकरी सुदा ब्याक्ति या नौकरी चाहने वाले ब्याक्ति के लिए CTC, यानी “Cost to Company” इस शद्ब का एक बड़ा महत्ब होता है।

और इसलिए CTC ka full form या CTC का क्या मतलब क्या होता है इसे जानना बहुत जरुरी होता है।

क्योकि हर नौकरी पेशा ब्याक्ति आपनी नौकरी शुरु करने से पहले इस बात को जरुर सुनिश्चित करना चाहते हे कि

आखिरकार उनका salary package क्या रहने बाला है साथही कंपानी कि ओर से क्या incentive रहने बाला है।

तो CTC, यानी “Cost to Company” उसी salary package को जानने एवम समझने का मुल आधार है

जिसमे आपकी salary package का पुरा विउरा होता है कि आपको कंपानी कि ओर से किस चिज के लिए कितना payment किया जाना है और किन चिजो पे आपको क्या और कितनी सहुलिएते मिलने बाली है।

CTC क्या है?(CTC ka full form)

CTC ka full form होता है Cost to Company जिसका मतलब यह होता है कि एक कंपनी के द्वारा एक कर्मचारी के लिए खर्च किया गया पूरा धन जो मान्यताओं, लाभों और वेतन का एक समूह को दर्शाता है।

इसे वेतनमान की गणना करने के लिए उपयोग होता है जिसमें बेस सैलरी, बोनस, इंसेंटिव, अन्य लाभ, अपूर्ति की गुणवत्ता, बाजार की मूल्यांकन आदि शामिल होते हैं।

CTC में शामिल अंशों की व्याख्या करने के लिए, यहां एक उदाहरण दिया गया है:

बेस सैलरी: यह कर्मचारी को मासिक या वार्षिक आधार पर दी जाने वाली मूल वेतन होती है, जो उनके पद के आधार पर निर्धारित की जाती है।

बोनस: यह वेतनमान उन विशेष मौकों, उत्पादकता या कार्यकारी संपन्नता के आधार पर दिया जाता है।

इंसेंटिव: कुछ कंपनियां कर्मचारियों को उनके प्रदर्शन और लक्ष्य पूरी करने पर इंसेंटिव देती है। इंसेंटिव आमतौर पर बिक्री, आराख़्य या अन्य कार्यकारी लक्ष्यों के आधार पर निर्धारित किया जाता है।

अपूर्ति की गुणवत्ता: इसमें कंपनी द्वारा प्रदान की जाने वाली उत्पादों या सेवाओं की गुणवत्ता का मूल्यांकन शामिल होता है।

अन्य लाभ: CTC में अन्य लाभ शामिल हो सकते हैं जैसे कि मेडिकल बीमा, पेंशन योजना, ट्रांसपोर्ट भत्ता, लंच भत्ता, अवकाश आदि।

Read Also

Network Marketing(MLM)क्या है? यह कैसे काम करता है?

IMF क्या है? IMF ka full form क्या है?

courses

Affiliate link

सीटीसी की संरचना

इसमें कई घटक शामिल होते हैं जो एक साथ मिलकर एक कर्मचारी द्वारा प्राप्त कुल लाभों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसमें मौद्रिक भत्ते, बोनस, अनुदान, पेंशन योजना और किसी भी अन्य प्रकार के लाभ शामिल हो सकते हैं।

आम तौर पर किसी कर्मचारी को मिलने वाला वास्तविक वेतन उसके सीटीसी का एक हिस्सा होता है, जिसे काटने के बाद उसे एक सकारात्मक मूल्य मिलता है।

सीटीसी के लाभ

यह नौकरी करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह नौकरी कर रहे व्यक्ति के संपूर्ण बेतन की एक ठौस विउरा प्रदान करता है।

जिससे नौकरी करने वाले उस व्यक्ति को यह सुनिश्चित करने में मदद मिलती है कि उसके द्वारा किए जाने बाले कामकाज के लिए कंपानी किस तरह से भुकतान कर रहे है यानि साधे शद्बो कहै तो उन्है क्या महनताना दि जा रही है, ताकी उन्है कंपानी के सभी योजनाओं और लाभों को बारे मे स्पष्ट तौरपर जानकारी हो।

हालाँकि यह हर कंपनी और संगठन के लिए अलग-अलग हो सकता है, इसलिए अगर आप नौकरी के लिए आवेदन करते हैं तो अच्छा होगा कि आप इसे ध्यान से पढ़ें और समझें।

Read Also

Matter क्या है? Matter meaning in hindi || पदार्थ

Betray meaning in Hindi? Betray का मतलब क्या है?

CTC और नेट सैलरी के बीच क्या अंतर है?

इन दोनो सैलरी में कुछ बुनियादी अंतर होता है, क्योंकि यह नेट सैलरी से अधिक हो सकता है। नेट सैलरी एक कर्मचारी को किसी भी कर, अनुदान, और कटौतियों के बाद मिलने वाला वास्तविक धनराशी होती है।

जबकि CTC उसके कुल पैकेज को दर्शाता है, जिसमें कटौतियों के बाद भी कई लाभ शामिल हो सकते हैं।

सीटीसी और नेट सैलरी के बीच अंतर को अच्छी तरह से समझने के लिए यहां एक तालिका के भीतर कुछ प्रमुख अंतरों पर करीब से नज़र डाली गई है

CTC (कॉस्ट टू कंपनी)नेट सैलरी
सीटीसी कंपनी द्वारा किसी कर्मचारी को प्रदान की गई कुल राशि है जो कंपनी के लिए खर्च की जाती है। इसमें वेतन पैकेज के सभी घटक शामिल हैं।दूसरी ओर, नेट सैलरी वह राशि है जो एक कर्मचारी को करों और अन्य योगदानों जैसी कटौतियों के बाद प्राप्त होती है।
दूसरी ओर, यह किसी व्यक्ति को रोजगार देने के लिए कंपनी द्वारा की गई कुल लागत का वर्णन करता है, जिसमें विभिन्न लाभ और भत्ते शामिल हैं।नेट सैलरी वह वास्तविक राशि है जो एक कर्मचारी को करों और अन्य कटौतियों के बाद प्राप्त होती है।
सीटीसी में मूल वेतन, भत्ते, बोनस, भविष्य निधि योगदान, चिकित्सा बीमा आदि जैसे घटक शामिल हैं।नेट सैलरी ग्रॉस सैलरी से कर, प्रोविडेंट फंड योगदान, पेशेवर कर और अन्य कटौतियों को कटकर प्राप्त होती है।
सीटीसी आमतौर पर कंपनी द्वारा नियोजित व्यक्ति द्वारा एक वर्ष के लिए किए गए खर्च को दर्शाता है।नेट सैलरी कर्मचारी को मिलने वाला मासिक या वार्षिक वेतन है जो उसे उसके बैंक खाते में मिलता है।
सीटीसी का उपयोग कंपनियों द्वारा किसी व्यक्ति को रोजगार देने की कुल लागत और समग्र मुआवजा पैकेज का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया जाता है।नेट सैलरी वह वास्तविक राशि है जिसका उपयोग कर्मचारी अपने व्यक्तिगत खर्चों और वित्तीय योजनाओं के लिए करते हैं।

Read Also

NEFT क्या है? NEFT फुल फॉर्म || NEFT meaning in hindi

MICR ka full form क्या है?(What is MICR)

CTC और नेट सैलरी की गणना कैसे कि जाती है?

एक उदाहरण के माध्यम से CTC (कॉस्ट टू कंपनी) और नेट सैलरी की गणना को समझने के लिए, आइए एक स्थिति को देखें:

मान लिजिए कि एक कर्मचारी की CTC 10 लाख रुपये प्रतिवर्ष है। तो इसके अंतर्गत, उन्हें वार्षिक बोनस के रूप में 1 लाख रुपये और मेडिकल बीमा के रूप में 50,000 रुपये प्राप्त होते हैं। इसके अलावा, उन्हें प्रोविडेंट फंड में अपना योगदान देना होता है, जो 12% उनकी बेसिक सैलरी के आधार पर कटता है।


CTC की गणना:

ग्रॉस सैलरी = 10,00,000 रुपये
बोनस = 1,00,000 रुपये
मेडिकल बीमा = 50,000 रुपये
CTC = ग्रॉस सैलरी + बोनस + मेडिकल बीमा
CTC = 10,00,000 + 1,00,000 + 50,000
CTC = 11,50,000 रुपये


नेट सैलरी की गणना:


बेसिक सैलरी = 10,00,000 रुपये
प्रोविडेंट फंड = (12/100) * बेसिक सैलरी
प्रोविडेंट फंड = (12/100) * 10,00,000
प्रोविडेंट फंड = 1,20,000 रुपये
नेट सैलरी = CTC – प्रोविडेंट फंड
नेट सैलरी = 11,50,000 – 1,20,000
नेट सैलरी = 10,30,000 रुपये


Conclusion

तो, सीटीसी क्या है? जैसा कि आप अब जानते हैं, यह कर्मचारी के लिए एक पूर्ण वेतन पैकेज का वर्णन करता है जो प्रत्येक व्यक्तिगत कर्मचारी को उनकी वेतन सुविधाओं और अन्य लाभों की गणना करने में मदद करता है।

यह उन लोगों के बीच एक आम शब्द है जो व्यवसाय या किसी संगठन से जुड़े हैं। अब जब भी आप सीटीसी शब्द सुनेंगे तो समझ जाएंगे कि यह कर्मचारी के वेतन पैकेज से संबंधित एक इकाई है जो कर्मचारियों को उनकी कुल लागत मापने में मदद करती है।

यह एक ऐसा महत्वपूर्ण शब्द है जो विभिन्न एमएनसी (बहुराष्ट्रीय कंपनियों) में काम करने वाले हर कामकाजी व्यक्ति के लिए महत्वपूर्ण है।

Read Also

System software क्या है? कैसे काम करता है और इसके प्रकार

Mobile से पैसे कैसे कमाए ? (8 Best फ्री तरीका अभी जानले)

Data क्या है? data meaning in hindi और डेटा के प्रकार

URL क्या है? कैसे काम करता है? और यूआरएल के प्रकार

Compiler क्या है? Compiler और Interpreter में अंतर

Computer Network क्या है?कैसे काम करता है?

About The Author

Author and Founder digipole hindi

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, AdSense, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

One thought on “CTC ka full form क्या है? (Cost To Company)”
  1. उत्कृष्ट लेखों के निर्माण में किसी ने वास्तव में सहायता की। मुझे कहना होगा कि यह पहली बार है जब मैंने आपकी वेबसाइट देखी है, और अब तक इस असाधारण पोस्ट को तैयार करने के लिए आपके द्वारा किए गए शोध से मैं चकित हूं। बहुत अच्छा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *