जब conversion और एक search engine friendly वेबसाइट की बात आती है, तो website की speed का एक बड़ा महत्व होता है। अगर आपके पास एक faster loading website नहीं है, तो यह लगभग तय हे कि आपके conversion rate तेज़ी से गिरेंगे और साथ ही आप कि bounce rate मे भी तेज़ी से उछाल देखने को मिलेंहालाँकि, website की speed को optimize करना इनता आसान काम नहीं है। दरसर, इसकी असली समस्या इसके पिछे छिपे हुए coding की जटिल तरीके है। पर इसके अलावा कुछ और मुद्दे भी इसमे शामिल है जिसे आपको  ठीक करने की आवश्यकता है, क्योंकि अगर आप इन्हें ठीक नहीं करते हैं तो आपकी website की ranking पर इसका बड़ा असर पड़ेगा।

आपके webpages जितनी faster load होंगे, आपकी bounce rate भी उतनी ही कम होंगी। और अगर आपकी site की loading speed अच्छी है, तो आपके पास high conversion rate से लेकर Google पर अच्छी ranking का एक बेहतर मौका होता है।

Faster Loading Website क्या है?

जब भी कइ users आपकी website को visit करते हैं, तो वे यही उम्मीद करता हैं कि page तेजी से load हो। कई भी visitor को किसी page के load होने के लिए जितनी देर प्रतीक्षा करना पड़ता है, उस site को लेकर उन्हें उतनी ही अधिक निराश होता हैं। 

आज हर organizasion का अपना एक website होता है। एक अच्छी website के लिए इसकी डिज़ाइन, थीम, user friendly नेविगेशन वे सभी महत्वपूर्ण तत्व हैं।लेकिन, एक चीज़ जिसे बहुत से लोग अनदेखा कर देते हैं वह है website कि faster loading।

आज हर कइ ऑनलाइन अपना जानकारी हासिल करना चाहते हैं, और वे इसे अपने डेस्कटॉप, लैपटॉप, टैबलेट या स्मार्टफोन जैसे devices के जरिए करते है। अपको पता ही होगा की ऑनलाइन पर आज के दिन जानकारी की भरमार है,तो ऐसे मे वे उन वेबसाइटों मे दूवारा visit नहीं करना चाहते है जो मोबाइल devices के लिए अनुकूलित नहीं हैं या ऐसी websites जो load होने में बहुत अधिक समय लेते हैं। अगर आप अपना target audience को खोना नही चाहते है तो अपको Faster Loading Website पर जरुर ध्यान देना चाहिए।

यह सिर्फ आपके target audience के लिए ही नहीं हैं वलकी , Google भी आपकी website की faster loading को एक रैंकिंग signal के रूप में देखता है। इसलिए, अगर आप चाहते हैं कि आपकी वेबसाइट Google के search results में दिखाई दे, तो आपको यह सुनिश्चित करने कि जरुरत है की आपकी वेबसाइट  Faster Loading Website है ताकि user आपके website पर वापस आते रहें।

Faster Loading Website important Kyu Hai?

Google जैसे Search engines, page loading एल्गोरिदम के जरिए आपकी webpage की रैंकिंग निर्धारित करता हैं, जिसका सीधा संबंध आपकी website  पर अधिक से अधिक visitor का होना हैं। इसके अलावा भी आपकी webpage loading ,Optimize होने के कारण आपके Users को एक अच्छी User Experience (UX) मिलता है जोकि आपकी webpage की रैंकिंग को बढ़ाने में मदद करता है।

Users धीमी गति से loading होने वाली website  से निराश होकर site को छोड़कर निकल जाते हैं जिसके कारण आपके website की bounce rate बड जाता है। हालांकि Google के search एल्गोरिथम 200 से भी अधिक रैंकिंग factor को follow करता है और इनमें से website की faster loading भी एक factor है।एक survey के दौरान यह पाया गया है कि 40 प्रतिशत visitors ऐसी website को छोड़ कर निकल जाते है जिसे loading होने में 3 सेकंड से अधिक समय लगता है।

जब Faster Loading Website की बात हो रही हो, तो हर एक मिलि सेकेंड(ms) का खास मायने होता है। Google के एक शोध से पता चलता है कि, जब loading times 1 से 3 सेकंड तक का होता है, तो bounce rate की संभावना 32 प्रतिशत बढ़ जाता है।और वही अगर webpage load होने में 1से 5 सेकंड का समय लेता हैं, तो bounce rate की संभावना 90 प्रतिशत तक बढ़ जाता है।

Faster Loading Website
Faster Loading Website

Loading Speed Ka Ranking Par Kaise Impact Parta Hai?

Webpage की धीमी गति सीधे तौत पर एक खराब user experience और revenue की हानि से जुडा है, साथ ही search engine के रैंकिंग को भी वे प्रभावित करता है। Google ने अप्रैल 2010 में ही Website Owners को site की Faster Loading Website पर ध्यान देने की गुजारिस की हुयि है। Google ने यह घोषणा की है कि, अवसे मोबाइल साइटों के लिए साइट स्पीड एक वडा रैंकिंग factor है।इसलिए, ऐसी वेबसाइटें जिन पर मोबाइल traffic अधिक हैं लेकिन वे लोड होने मे अधिक समय लेता है या ठीक से optimized नहीं हैं, तो Google उन्हें search रैंकिंग के द्वारा penalized कर सकता है।

Webpage Ki Speed Ko Kaise Measure Kare?

एक नए website owner के लिए faster load कइ खास माएने नही रखता है क्योंकि उन्हें अपना ब्लॉग शुरू करने के बाद ऐसा महसूस हो सकता है कि उनकी site पर सब कुछ ठीक ही है। उन्हें आपनी साइट दिखने मे सुंदर दिखाइ देता है तो लोगों को उनकी site ठीक से लोड होने के लिए कुछ सेकंड प्रतीक्षा करने में कोई परिसानी नहीं होनी चाहिए। लेकिन हकीकत में ऐसा नही है।दरसल, आप अगर अपने web पेजों के लिए SERP पर वेहतर प्रदर्शन चाहते हे तो आपको अपनी साइट की loading speed को Analyze करना चाहिए।

अनलाईन पर ऐसे कई tools हैं जिसका इस्तेमाल आप आपने web page कि loading speed को Analyze करने के लिए कर सकते है।जैसे कि GTmetrix,
Pingdom Website Speed Test आदि जौकि विलकुल free में उपलब्ध है।
इसके अलाबा Google PageSpeed Insights नाम का Google का आपना free Website Speed Analyzer Tool है 
जिसके जरिए आप अपने साइट को Analyze कर सकते है

Google द्वारा समर्थित यह Tool आपके PageSpeed को सुनिश्चित करने में आपकी मदद कर सकता है। यह एक उपयोग और आसान Speed Analyzer Tool है जो आपको डेस्कटॉप और मोबाइल दोनों devices पर अपने web page की गति को Analyze करने में सक्षम बनाता है। इसे उपयोग करने के लिए, आपको बस आपने उस web page की URLको दर्ज करके Analyze बटन को press करना है।

Site Speed Ko Improve Kaise Kare?

हर एक Website का अंतिम लक्ष्य यहि होता है कि वे आपने visitors को वेहतर जानकारी के साथ – साथ एक वेहतर User Experience(UX) प्रदान करे। एक faster load साइट न केवल User Experience को बेहतर बनाता है बल्कि visitors कि Engagement को भी बढ़ावा देने में मदद करता है। यहि बजह है के आपको अपने Webpages की loading speed की नियमित जांच को महत्वपूर्ण बनाता है। 

निचे दिए गए कुछ जरुरी सुधार के साथ अपने Website कि load speed को आप वडा सकते है।

Compressed Images का इस्तेमाल।

सबसे पहले यह सुनिश्चित करें कि कोई भी तत्व आपकी वेबसाइट के load speed को धीमा नहीं कर रहा है, जैसे कि जादा मात्रा मे images और Videos का इस्तेमाल ,आदि। अगर आप अपने webpages पर images को सेट करना पसंद करते हैं, लेकिन images के pixels के बारे में उचित ज्ञान नहीं रखते हैं, तो यह आपके page की loading speed को धीमा करने कि एक बड़े कारण हो सकता है। क्योंकि images आपके webpage के एक बड़े हिस्से को कैप्चर करता है और पेज कि size को वेवजाह वडाता है। उस स्थिति में, वेबसाइट के प्रदर्शन को बेहतर बनाने और page loading को तेज करने का एक तरीका images को compress करना है।

अगर आप image quality को खोए बिना छवियों को optimize करना चाहते हैं, तो आप Image Compressor tool का इस्तेमाल कर सकते हैं। दूसरा समाधान है,  हमेशा JPG या WEBP, image format का इस्तेमाल करना।एक Compressed Images आपके visitors को एक अच्छा user experience (UX) प्रदान कर सकता है।

CSS and JavaScript को छोटा करें।

आज के आधुनिक websites CSS और JavaScript फाइलों द्वारा वनाए जाते है , जो वेब पेजों को अच्छा दिखने और user’s  impressions को वडाने के लिए एक साथ काम करता हैं। पर इनमे से कुछ अनचाहि कोड उन फाइलों को अनावश्यक बड़ा बना देता है, जो आपकी साइट की loading speed को धीमा कर देता है।इन अतिरिक्त codes और characters को डुनडकर  उन्हें छाट कर आसानी से loading speed की धीमापन को कम किया जा सकता है।

Gzip Compression को Enable करे।

भारी वरकम Elements से लादे होये webpages डाउनलोड होने मे काफी जादा समय लेता है। ऐसे Webpages के loading speed को faster वनाने का एक तरीका यह है कि,ऐसी फ़ाइलों को zip फ़ाइल में compress कर दे। Compression, Site के pages की बैंडविड्थ को कम कर देता है, जौकि user’s के ब्राउज़र के लिए उन्हें लोड करना आसान बना देता है। Gzip एक ऐसी उपकरण है जो आपकी Website की फ़ाइलों को compress करते हुए  page loading speed को faster बनाने में आपकी मदद करता है। 

Browser caching Enable करें।

ब्राउज़र caching को Enable करके, आप आपने content को User’s के ब्राउज़र में store करने की अनुमति दे सकते हैं। इसका मतलब यह है कि अगर कोई विज़िटर आपकी साइट पर वापस आता है, तो उन्हें सर्वर से सभी फ़ाइलों को फिर से डाउनलोड करने की जरुरत नहीं परता है क्योंकि उनके पास पहले से ही उनके ब्राउज़र में यह सभी information संग्रहीत है।वापस लौटने वाले users के लिए Browser caching आपकी website को faster loading बना सकता है।

Simple Optimized Themes का इस्तेमाल करें।

Templates या themes किसी भी वेबसाइट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता हैं। यह वास्तव में किसी भी वेबसाइट के लिए एक बुनियादी ढांचा है। एक अच्छी optimized और एक simple थीम आपकी साइट की loading speed को बहुत प्रभावित कर सकता है। बिना जटिल कोड के और कम आकार के फ़ाइल आपकी वेबसाइट को तेजी से लोड कर सकता है। याद रखे की, आपकी फाइल का साइज हमेशा 33 Kb के अंदर होना चाहिए। इसके लिए आप किसी भी फाइल साइज चेकर टूल की मदद ले सकते हैं।

Lazy load images technique का use करे।

आमतौर पर, जब कोई user कोई वेबसाइट खोलता है, तो प्रदर्शित होने वाली सभी content अपने आप एक साथ लोड होने लगते है खास कर Images। भले ही user को सिफ॔ content की किसी खास हिंसे की आवश्यकता हो, फिर भी उनके सामने उस page के सभी हिंसे उपलब्ध हो जाते है जौकि site के speed को धीमा करने का एक वडा कारण है।ऐसे मे Lazy load images और videos तकनिक का इस्तेमाल आपकी site कि loading speed को faster बनाने मे मदद कर सकता है। Lazy loading का यह तकनिक page के सभी हिंसे को एक ही साथ load करने के बजाय images और videos को users के जरुरत के हिसाब से प्रदर्शित करता है।

User जव नीचे scroll करता है तवी images और videos लोड होना शुरू करते है। इस तरह, site तेजी से लोड होते है और साथ ही एक बेहतर user experience मिलता है।

Content Delivery Network (CDN)का इस्तेमाल करे।

अगर आपकी साइट पर प्रदर्शित होने के लिए बड़ी मात्रा में Content मौजुद है, तो Content Delivery Network (CDN) का इस्तेमाल website की बेहतर प्रदर्शन के साथ User Experience को वडा सकते है। CDN – कंप्यूटर की एक ऐसी प्रणाली है जिसमें डेटा की copies संग्रहीत होता हैं, जोकि नेटवर्क में विभिन्न बिंदुओं पर इसे रखा जाता हैं ताकि Clint से डेटा यानि Server तक पहुंचने के लिए bandwidth को अधिकतम किया जा सके। CDN – user’s की location के आधार पर pages को, Users के लिए प्रदर्शित करता है। CDN को जदातर Images, Videos, Audio files , CSS files और जावास्क्रिप्ट जैसे भारी वरकम resources को होस्ट करने के लिए किया जाता है।

Website Load Speed की नियमित जाच करे।

अगर आप अपनी website के लिए faster loading speed को सफलतापूर्वक Fix कर लेते हैं, तो इसका मतलब यह नहीं है कि आप इस काम को पुरा कर चुके और इस पर से ध्यान हटाले । क्योंकि यहा चीजें जल्दी से बदल भी सकता हैं, और आप जान ही नहीं पाएंगे कि आपकी साइट कलको कितना अच्छा performance कर रहा है। यही कारण है कि आपको नियमित रुप से आपने site की loading speed को परीक्षण करने और नियमित रूप से इनमे सुधार करने की जरुरत होता है, खास कर Mobile pages के लिए। इसके लिए आप Test My Site नाम के इस tool का इस्तेमाल कर सकते है।

Conclusion

हर कोई एक अच्छी डिज़ाइन की गई साइटों को पसंद करता है। पर, ऐसी डिज़ाइन का कोई मतलब नही बनता जो load होने मे जादा समय लेता हो। क्योंकि तब तक visitor आपके साइट के लिए प्रतीक्षा किए बिना साइट छोड़ कर चला जाता है।

एक ओर कारण जौ आपके page की faster load मायने रखता है, यह है आपके Site की Reputation। क्योंकि slow loading से आपके ब्रांड पर भुरा प्रभाव पर सकता है। आपके वेब पेज अगर लोड होने में अधिक समय लेता हैं तो यह आपके unprofessional होने और website की अविश्वसनीयता को दशा॔ता है।

उम्मीद है कि अब आपको पता चल गया होगा कि एक faster loading website किया होता है ओर केसे आप आपनी website कि loading speed को बड़ा सकते है।इसी तरह की और नई – नई जानकारी पाने के लिए DIGIPOLE HINDI को subsribe करे।

About The Author

BISWAJIT

Hi! Friends, this is Biswajit, the founder and author of 'DIGIPOLE HINDI'. He is interested in gathering valuable information related to digital marketing, such as affiliate marketing, blogging, earning money online, SEO, Adsense, technology, SEO tools, etc, and conveying the people in the form of articles.

Author:- I hope you will be able to get enough valuable information from this site and enjoy it. Thank you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *