Apni Website Kaise Banaye? 9 Easy Steps in Hindi

83 / 100

Apni Website Kaise Banaye? अपनी creativity या brand के साथ एक ऑनलाइन presentation दर्ज कराने और खुद को express करने के लिए एक वेबसाइट का मालिक होना वास्तव में एक बहुत ही अच्छा विचार है। लेकिन जब आप अपने लिए एक वेबसाइट बनाने को आगे बढ़ते हैं तो यह काफी मुश्किल सा लगता है।

आप एक वेबसाइट बनाने के बारे में सोच रहे हैं? लेकिन आपके पास पर्याप्त विचार नहीं है कि Apni Website Kaise Banaye? या apni khud ki website kaise banaye जाए? या आप सोच रहे होंगे कि खुद के लिए एक वेबसाइट बनाना बहुत ही कठिन और मुशकिल बडा काम है? या फिर एक वेबसाइट बनानी हो तो इसके लिए प्रोग्रामिंग और डिजाइन सीखने से लेकर ओर भी बहुत सारे ज्ञान की आवश्यकता होंगी?

लेकिन आप जो सोच रहे हैं वह ऐसा बिलकुल भी नहीं है। इस लेख में, मैं आपको दिखाऊंगा कि आप कुछ easy steps को follow करके अपने लिए एक professional website kaise banaye । इस article में,आपको बहुत ही सरल तरीके से बताऊंगा कि केसे आप अपनी खुद कि एक वेबसाइट बना सकते हैं, वो भी बिना किसी पेशेवर की मदद लिए। तो फिर बिना देर किए चलिए देख लेते है कि website kaise banate hai.

Apni Website Kaise Banaye?

अपनी खुद की वेबसाइट सेट करना जितना आप सोचते हैं उससे कहीं ज्यादा आसान है। आजकल, जो लोग व्यवसायिक दिमाग रखते हैं, वे अपनी ऑनलाइन उपस्थिति चाहते हैं।

आम तौर पर, जब आप एक नई वेबसाइट बनाना शुरू करने जा रहे होते हैं तो आपको तीन सामान्य तत्वों की आवश्यकता होती है:

  • डोमेन
  • होस्टिंग
  • CMS (कंटेंट मेनेजमेंट सिस्टम) प्लेटफॉर्म।

इन सभी के बारे में, हम इस लेख में आगे चर्चा करेंगे। लेकिन वेबसाइट बनाने से पहले अपनी वेबसाइट के प्राथमिक उद्देश्य का निर्धारण करना बहुत जरूरी है। क्योंकि आगे की सारी प्लानिंग पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपनी वेबसाइट का क्या करेंगे और उसके लिए क्या-क्या चीजें जरूरी होंगी।

1.अपनी वेबसाइट का प्राथमिक उद्देश्य निर्धारित करें।

वेब पर विभिन्न प्रकार की वेबसाइटें सेवाएं दे रही हैं। उनमें से कुछ व्यावसायिक वेबसाइट हैं, कुछ विभिन्न ऑनलाइन सेवाएं प्रदान कर रहे हैं और कुछ शैक्षिक उद्देश्यों के लिए ज्ञान प्रदान कर रहे हैं। अब आपको यह तय करने की जरुरत है कि आपकी आवश्यकता क्या है।

उदाहरण के लिए, आम तौर पर, अगर आप वेब पर physical products की सेवाए देना चाहते हैं तो आपको एक ई-कॉमर्स वेबसाइट की आवश्यकता होगी। और अगर आप लोगों को आपकी creativity के बारे में बताना चाहते है तो आप एक साधारण वेबसाइट बना सकते हैं जो लोगों को आपकी रचनात्मकता के बारे में बताए।

Pro tips for planning your website:

  • एक रोड मैप आपकी वेबसाइट के बारे में आपके विचारों को व्यवस्थित करने में मदद करेगा। अपनी वेबसाइट के बारे में जो कुछ भी आप सोचते हैं उसे एक कागज पर लिख लें।
  • डिज़ाइन, लेआउट, नेविगेशन और सामग्री आदि का अंदाजा लगाने के लिए अन्य समान वेबसाइटों का निरीक्षण करें। साथ ही, ध्यान दें कि आपको क्या चाहिए और क्या नहीं।
  • एक बार जब आप अपनी वेबसाइट पर जो चाहते हैं उसका मसौदा तैयार कर लेते हैं, तो आपको उनकी कार्यक्षमता पर थोड़ा अध्ययन और कार्यान्वयन करने से पहले उन पर पुन: विश्लेषण करने की आवश्यकता है।

2.सही प्लेटफॉर्म चुनें

अपनी वेबसाइट को अच्छी तरह से प्रबंधित करने के लिए सही प्लेटफॉर्म चुनना बहुत जरुरी है।हालाँकि, वेबसाइट बनाने के लिए कई लोकप्रिय प्लेटफ़ॉर्म उपलब्ध हैं जिन्हें website builder के नाम से जाता है।

यहां सबसे लोकप्रिय वेबसाइट बिल्डरों की एक छोटी सूची है जो मैंने आपके लिए तैयार की है।

यह एक साधारण ड्रैग एंड ड्रॉप इंटरफेस के साथ एक लोकप्रिय और उपयोग में आसान वेबसाइट बिल्डर है, लेकिन अगर आप इसकी लागत को देखें तो यह काफी अधिक है। मुझे कितना पता है कि यह बड़ी वेबसाइटों के लिए उपयुक्त नहीं है। इसके साथ, जब आप किसी कारण से अपनी वेबसाइट को माइग्रेट करने जा रहे हैं तो आपको शायद एक समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

स्क्वरस्पेस भी एक सुंदर वेबसाइट बिल्डर है जो आपके लिए एक आसान तरीके से एक सुंदर वेबसाइट बना सकता है, लेकिन फिर भी, यह फिर से एक उच्च लागत पर आता है और आपकी वेबसाइट को माइग्रेट करने का कोई विकल्प भी नहीं है।

Drupal भी एक शक्तिशाली वेबसाइट निर्माण मंच है। लेकिन इसके लिए अनुभव की आवश्यकता होती है। वास्तव में, यह अनुभवी कोडर और वेब डेवलपर्स के लिए लोकप्रिय है, मेरी राय में शुरुआती लोगों के लिए यह एक अच्छा विकल्प नहीं है।

यह लगभग वर्डप्रेस के समान है और वेबसाइट निर्माण के लिए एक अच्छा उपकरण है, लेकिन चीजों को आप जो चाहते हैं उसके साथ काम करने के लिए कोड लिखने के लिए कुछ बुनियादी समझ की भी आवश्यकता होती है।

लेकिन उपर बताए इस सभी प्लेटफॉर्मओ से ‘wordpress’ Content Management Systems सबसे आसान और लोकप्रिय है।मेरे खयाल से इसी प्लेटफॉर्म को चुनना सही रहगा,खास कर जब आप नए है।तो,इस Article मे हम ‘wordpress’को ही आगे लेके चलेंगे और थोरासा Detail मे जानने कि कोशिश करेंगे कि आखिर इसी प्लेटफॉर्म को ही हमे क्यों चुनने चाहिए।

WordPress CMS को क्यों चुनना चाहिए?

Website kaise banaye in Hindi?-वेबसाइट बनाना इतना आसान कभी नहीं था। वर्डप्रेस जैसे सही प्लेटफॉर्म और आधुनिक Content Management System (CMS) का उपयोग इन प्रक्रिया को बहुत आसान बना दिया है।हालांकि, चुनने के लिए बहुत सारे CMSs विकल्प मौजुद हैं, जिनमें से हर एक का अपना अलग- अलग फायदे और नुकसान भी हैं।

लेकिन, कुछ अच्छे कारणों के लिए वेबसाइट मालिकों के बीच ‘वर्डप्रेस’ एक प्रमुख विकल्प है। इसी कारण आज, WordPress दुनिया का सबसे लोकप्रिय वेबसाइट निर्माण का मंच बना हुया है।

यहां कुछ कारण दिए गए हैं जो वर्डप्रेस को दुनिया में सबसे लोकप्रिय बनाते हैं।

  • यह एक open-source सॉफ्टवेयर है।
  • वर्डप्रेस सभी प्रकार की वेबसाइट निर्माण के लिए उपयुक्त है।
  • वर्डप्रेस operate करना आसान है।
  • Powerful थीम और प्लगइन्स वेबसाइट पर आपकी नियंत्रण बड़ाता है।
  • वर्डप्रेस वेबसाइटों कोmaintain करना आसान है
  • वेबसाइट को सर्च इंजन के लिए ऑप्टिमाइज़ करना आसान होता हैं।
  • वर्डप्रेस सुरक्षा को priority देता है।
  • WordPress पर आप अपनी वेबसाइट के मालिक होते हैं।
  • यह ब्लॉगिंग के लिए सबसे अच्छा विकल्प है।

3.एक सही Web Hosting Plan चुने।

वेबसाइट होस्ट का मतलब, एक hosting provider company है जो इंटरनेट पर देखी जाने वाली वेबसाइट को होस्ट करने का काम करता है। जहां आप आपने domain name को अपने होस्टिंग से जोड़ते हैं ओर फिर उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट को visit करते हैं।

वेबसाइट को होस्ट करने के लिए हर एक वेबसाइट को एक hosting service की जरुरत होता है। लेकिन, वेबसाइट को होस्ट करना आपकी आवश्यकता के अनुसार महंगा या सस्ता हो सकता है। यह आपके बजट के साथ-साथ आपकी जरुरतो पर भी निर्भर करता है।

कई अलग-अलग किसम के hosting plans हैं जिसे आपको आपने जरुरतो के आधार पर चुनना होता हैं।आमतोर पर, दो अलग किसम की hosting plans देखने को मिलते है।

  • Shared Hosting.

एक shared hosting, कम खर्चीला होता है,जबकी एक Dedicated hosting अधिक खर्चीला होता है।दरसल, एक shared hosting का अर्थ यह होता है कि आप किसी अन्य साइटों के साथ एक ही सर्वर को साझा करते है। इस साझेदारि मे खर्चा वाट जाने के कारण shared hosting कम खर्चीला होता है। shared hosting मे डेटा साझेदारि के कारण साईट कि loading speed पर असर ढालता है।

  • Dedicated Hosting.

जबकी एक Dedicated hosting अधिक खर्चीला होता है।एक Dedicated hosting का मतलब ,यह आपकी अपनी निजी सर्वर होता है जोकि सिफ॔ आपकी साइट के लिए ही समर्पित होता है,और आपको अन्य साइटों के साथ कइ साझेदारि नहीं करना पड़ता और आपकी साइट कि गति पर भी कोई असर नही ढालता।

Hosting plan चुनते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

वेबसाइट के लिए एक सही Hosting plan का निर्णय लेना एक बड़ा और महत्वपूर्ण काम होत है, क्योंकि यह आपके साईट की सफलता को सुनिश्चित करता है। एक सही Hosting plan आपके वेबसाइट के प्रदर्शन को बढ़ा सकते हैं।

एक web hosting चुनने समय निम्नलिखित चिजो पर ध्यान देने कि जरुरत है:-

  • आपकी जरूरते क्या है।
  • सर्वर reliability कितना है।
  • pricing plans कितना flexible हैं
  • renewal price कितना है।
  • उनके Refund Policy केसा है?
  • इनके features क्या-क्या हैं?
  • वेबसाइट बैकअप Policy क्या हैं?
  • customer support केसा है?
  • Server speed केसा है?
  • Server location कहा है?
  • Server uptime कितना है।
  • Storage space कितना है।
  • Storage Device HDD या SSD है।
  • Bandwith और साथ ही Email services भी।

4.एक Domain name चुनें।

अपनी वेबसाइट के लिए एक Domain name का चयन करे। एक custom domain name न केवल आपके visitors को आपकी वेबसाइट खोजने में मदद करता है, बल्कि यह आपकी brand को भी Recognize करता है।

अपनी वेबसाइट के लिए सही Domain name का चयन करे, निम्नलिखित चिजो का ध्यान रखे:

Domain name हमेशा ऐसा चुनें जो छोटा और स्पष्ट हो, ताकि visitors को उसे याद रखने मे आसानी हो और आपकी साईट पर दुबारा उनकी आने कि posibility वनी रहै। Domain name जिसमे misspellings होने कि संभावनाए हो उसे कभी न चुने क्योंकि गलत वर्तन के कारण visitors आपकी वेबसाइट के बजए किसी और वेबसाइट को visit करने लगेंगे। अगर डोमेन चुनते समय आपकी पसंद का डोमेन उपलब्ध न हो तो, एक्सटेंशन बदलने या वैकल्पिक डोमेन नाम की तलाश करें।

डोमेन कहां से खरीदें?

यहा निचे कुछ प्रमुख Domain Resistors के नाम दिए गए है जहा से आप आपने साईट के लिए एक Domain Resistor कर सकते है।

  • GoDaddy
  • Hostinger
  • Namecheap
  • Domain.com

5.होस्टिंग पर वर्डप्रेस इनस्टॉल करें।

वर्डप्रेस एक मुक्त,और open-source content management system है,इसका उपयोग करना बहुत आसान है। वर्डप्रेस इनस्टॉल करने के अलग – अलग तरीके हैं। एक ऑटो-इंस्टॉलर का उपयोग करके, जो कि अधिकांश hosting providers द्वारा पेश किया जाता है। दूसरा तरीका है मैनुअल, जो कि अपने cPanel के द्वारा Softaculous का उपयोग करके किया जाता है।

वर्डप्रेस को स्वयं से स्थापित करना पहली बार कुछ जटिल लग सकता है। इसलिए मैं सुझाव दूंगा कि आप ऑटो-इंस्टॉलर के साथ ही जाएं क्योंकि यह एक बहुत आसान प्रक्रिया होगी, खासकर जब आप शुरुआत कर रहे हों। अगर आप WordPress Install के बारे मे अधिक जानना चाहते हैं तो How to Install WordPress on Hosting? इस लिंक पर क्लिक करें।

6.Theme Install करें

आपकी साइट पर visitors को आकर्षित करने के लिए एक थीम का स्थापित करना आवश्यक है। एक वेबसाइट का डिज़ाइन न केवल visitors को लुभा सकते , बल्कि वेबसाइट पर user experience को भी बेहतर बनाता है।

ऐसे मे, एक पेशेवर वेब डिज़ाइनर बहुत महंगा होता है। लेकिन सौभाग्य से, वर्डप्रेस प्लेटफॉर्म पर बहुत सारे बने वणाए Theme उपलब्ध हैं जिसका उपयोग आप बढ़े आसानि से कर सकते है।

WordPress प्लेटफॉर्म पर बहुत सारी मुफ्त और प्रीमियम थीम हैं। उनमें से कुछ डिज़ाइन सभी प्रकार की वेबसाइटों के लिए उपयुक्त हैं, और कुछ विशेष प्रकार के वेबसाइटों को ध्यान मे रखके किए गए हैं जैसे: –

  • ईकामर्स वेबसाइट
  • ब्लॉगिंग
  • समाचार वेबसाइटें
  • जॉब साइट्स
  • पोर्टफोलियो आदि।

7.Template को customize करें

टेम्पलेट आपकी वेबसाइट की मुल ढाचा होता है। यह CSS/Java Cripts द्वारा pre-designed वेबपेज है, जो किसी भी वेबसाइट के स्वरूप और लेआउट को परिभाषित करता है।

टेम्पलेट हमेशा ऐसा चुनना चाहिए जो आपकी जरुरतओं को पूरा करता हो। आप उन्हें आपने niche या categories के आधार पर चुन सकते हैं ,

उदाहरण के तोर पर: ऑनलाइन स्टोर, रेस्तरां ,वास्तुकला आदि। आप चाहे तो उन्हें ब्लॉग, पोर्टफोलियो जैसी व्यक्तिगत वेबसाइटों के लिए भी चुना जा सकता हैं।

Website Kaise Banaye
Website Kaise Banaye

आम तौर पर, टेम्प्लेट में पूर्व-निर्धारित styles, colors, और fonts सामिल होते हैं। चाहे तो आप इन डिज़ाइनों को as it is ही रख सकते हैं, या अपने जरुरतओं के अनुसार इन्हें बदल भी सकते हैं।

8.वेबसाइट को customize करें

वेबसाइट को customize करते समय क्या करना होता है? खैर, यह काफी हद तक आप पर निर्भर करता है कि आप आपने साइट पर क्या-क्या जोडना चाहते है। लेकिन ,आम तोर पर customize में निचे दिए गए चिजे शामिल हो सकते हैं:

  • नेविगेशन में नए पेज जोड़ना
  • बटनों का आकार, रंग और फ़ॉन्ट को बदलना
  • contact फ़ॉर्म और मेनू जैसे नए elements को जोड़ना
  • अपने होमपेज पर छवियों या Videos का संपादन करना
  • सोशल मीडिया चैनलों को लिंक और एम्बेड करना
  • आवश्यक pages को जोड़ना जैसे कि- Contact Page, About Page, Privacy Policy, T& C आदि।
  • आवश्यक प्लगइन्स को जोड़ना जैसे कि- CSS/Java minifier, Site Analytics, Newsletter, SEO plugin आदि।

9.अच्छी और quality Content जोड़ें

उपरोक्त सभी चिजे सेट कर लेने के बाद अब समय है साइट के लिए content जोड़ना। आपका niche जो भी हो, आपको अपने पाठकों के लिए informative एवम गुणवत्ता वाली content तोयार करने होंगे। अपने पेज को Gogle SERP पर रैंक कराने के लिए नियमित रुप से नई content जोड़ते होंगे। क्योंकि content ही किसी वेबसाइट कि मुख्य फ़ीड है और content साइट किसी भी साइट का राजा है। प्रत्येक पोस्ट में कम से कम एक छवि अवश्य जोड़ें जो online पर आपकी visibility को बढ़ा सके।

फ्री वेबसाइट कैसे बनाये?

वोसे, आपकी जानकारी के बता दे कि,अगर आप चाहे तो बिना कोई खचा॔ किए मुफ्त में भी आपना एक वेबसाइट बना सकते हैं। लेकिन एक मुफ्त वेबसाइट वनाने पर कई महत्वपूर्ण सुविधाएँ से आपको वंचित रहना होगा। जैसे कि – आप एक कस्टम डोमेन का सही उपयोग नहीं कर सकते हैं।अब जौ देखा गया है उसके अनुसार,आपकी free साइट में उस वेबसाइट निर्माता के विज्ञापन होंगे और उनसे होने बाले कमाई पर उनके हक होंगे आपके नही।

दरअसल, एक free वेबसाइट पर आपका control कफि कम होता हे। सिधे तोर पर कहै तो, उन free platforms पर आपका वेबसाइट होते हुये भी आपको पुरी तरह से इसकी मालिकाना नही मिल पता है। इन सव के बावजुद भी अगर आप एक free platform कि तलास मे है तो आप Blogger पर आपना एक account बना सकते है।

Blogger कि एक खास बात यह है कि इसके साथ आप चाहे तो एक custom Domain add कर सकते है। इसके अलावा, AdSense ने भी Blogger पर blogspot sub-Domain को approval देना शुरु किया है। इन के बारे में अधिक जानने के लिए Free Blog Kaise Banaye? Aur Paise Kaise Kamaye? को जरुर पढ़े। हालाँकि, अगर आप पुरी सुविधाओ के साथ आपना खुद का एक पेशेवर, वेबसाइट चाहते हैं, तो आपको कुछ डॉलर का भुगतान तो करना ही होगा।

Conclusion

मुझे उम्मीद है कि Website Kaise Banaye? दरसल, Apni Khud Ki Website Kaise Banaye? से सम्बंधित सारी जानकारी आपको मिल गई होगी।

वेसे,वेबसाइट के लिए कुछ भी स्थायी नहीं है।यहा चिजे शमेषा update होते रहते है।उसी तरह आपके वेबसाइट का रंग, डिज़ाइन और content भी जरुरतो के आधार पर वदलाभ भी किए जा सकता है।समय के साथ आप जिनता शिखते जाएंगे उसके अनुसार आपकी वेबसाइट कि quality भी बढ़ता और बेहतर होता जाएगा।

Read Also:-
Domain Kya Hai? What is Domain in Hindi?
Domain Authority Kya Hai? D A Kaise Increase Kare?
Google AdSense Kya Hai? AdSense कैसे काम करता है?

About The Author

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, AdSense, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

2 thoughts on “Apni Website Kaise Banaye? 9 Easy Steps in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *