Robot Kya Hai?|Robot Kaise Kaam Karta Hai?

86 / 100

 
 

नमस्कार, दोस्तों robot ki duniya मै आप का स्वागत है।Robot Kya Hai? इस लेख के माध्यम से आपको robot ke bare mein पुरी jankari मिलने वाली हैरोबोट शब्द आज हर किसी के लिए एक बहुत ही परिचित शब्द है। लेकिन हममें से बहुत से लोग हैं जिन्हें इसके बारे में कोई खास जानकारी नहीं है। हम में से बहुत से लोग यह नहीं जानते है कि रोबोट हमारे दैनिक जीवन को कैसे प्रभावित करता हैं और हमारे जटिल जीवन को आसान बनाने में मदद करता हैं।आज के इस लेख में हम रोबोट के बारे में सभी जानकारी पर चर्चा करेंगे साथ ही यह भी जानने की कोशिश करेंगे कि एक Robot Kaise Kaam Karta Hai? और इसका मानव जीवन पर क्या प्रभाव है। तो यहां ज्यादा समय ना बिताते हुये सीधे मूल चचै पर आते हैं।

Robot Kya Hai|Robot information in hindi .

चलिए पहले  Robot Kya Hai? इसके बारे मे थोरिसी जानकारी जुटा लेते है। रोबोट एक मशीन है जिसे मानव प्रयासों को गति देने और सटीक एवम स्वचालित रूप  से अधिक से अधिक जटिल कार्य को पुरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

रोबोट एक ऐसी मशीन है जो स्वचालित रूप से संवेदनशीलता का पता लगाता है, और अपने दम पर निर्णय लेने और वास्तविक दुनिया में प्रदर्शन करने में सक्षम है।कई लोग रोबोट को एक ऐसी मशीन के रूप में वर्णित करते हैं जो कि मानव की तरह नकल करने मे सक्षम है।खैर, यह सेंसर, नियंत्रण प्रणाली, मैनिपुलेटर, बिजली की आपूर्ति और सॉफ्टवेयर की एक एकीकृत प्रणाली है जो लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक साथ काम करते हैं। यह भौतिकी, गणित, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, डेटा विज्ञान और कंप्यूटिंग का एक संयोजन है।साधारण शब्द में कहै तो, रोबोट एक स्वचालित मशीन है जो मानवके महत्वपूर्ण ओर जटिल प्रयासों को कम करता है। कई अलग-अलग प्रकार के रोबोट हैं जो अलग-अलग कार्य करते हैं।

What is Robotics in Hindi?|Robotics Kya Hai?

रोबोटिक्स एक इंजीनियरिंग ब्रंच है ,जो रोबोट के डिजाइन, निर्माण और संचालन के साथ काम करता है।रोबोटिक्स, विज्ञान, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी का मेल है ,जो मशीनों को एकजुट करता है। जिसे हर कोई रोबोट के रूप में जानता है, जो मानव स्वरूप बुद्धि ओर गतिविधियों से संपन्न है।

रोबोटिक्स ,रोबोट के अनुसंधान, अध्ययन और अनुप्रयोग का एक संयोजन है। और अधिक स्पष्ट बोले तो, रोबोटिक्स कृत्रिम बुद्धिमत्ता में उपयोग किए जाने वाले बुद्धिमान और कुशल रोबोट के अनुसंधान और विकास का विज्ञान है। रोबोटिक्स कृत्रिम बुद्धि, यानीके Artificial Intelegent (AI) की एक महत्वपूर्ण शाखा है। यह कंप्यूटर विज्ञान इंजीनियरिंग, निर्माण इंजीनियरिंग और डिजाइनिंग जैसे महत्वपूर्ण कामों को अंजाम देता है।

आसान शब्दों मे कहे तो, रोबोटिक्स रोबोट को बनाने का विज्ञान है जिसका मुख्य लक्ष्य एक कुशल रोबोट को डिजाइन करना और उसे काम करने योग्य बनाना है। 

रोबोटिक्स के कार्य।

१).रोबोट के लिए पर्याप्त उपकरण और ऊर्जा प्रदान करना।

२).किसी विशिष्ट कार्य को करने के लिए आवश्यकता के अनुसार मशीन का निर्माण, या इसकी डिज़ाइन या आकृति की देना है।

३).क रोबोट को कब,कहा और क्या करना है ,यह कंप्यूटर प्रोग्रामिंग के माध्यम से निर्धारित करना।

MACHINE LEARNING KIA HAI?MACHINE LEARNING IN HINDI.

Types of Robots (रोबोट के प्रकार)

Base के अनुसार, रोबोट मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं।
एक स्थिर है और दूसरा मोबाइल है।

१).Stable Robot.
२).Mobile Robot.

निर्माण उद्योग में उपयोग किए जाने वाले रोबोट स्थिर रोबोट के उदाहरण हैं। इस प्रकार के रोबोट अपने जागे में स्थिर रहकर अपने निर्धारित  कार्यों को पूरा करते हैं। इस प्रकार के रोबोट अपनी तय जगह नहीं बदल सकते हैं।

 Stable Robot.
 
Robot Kya Hai?|Robot Kaise Kaam Karta Hai?
Robot Kya Hai?|Robot Kaise Kaam Karta Hai?

हालांकि, मोबाइल आधारित रोबोट पहिया या ट्रैक अटैचमेंट का उपयोग करके अपने आप को स्थानांतरित करके अपने तय काम को पूरा कर सकते हैं।

Mobile Robot.
 
Robot Kya Hai?|Robot Kaise Kaam Karta Hai?
Robot Kya Hai?|Robot Kaise Kaam Karta Hai?

Machine Aur Robot Mein kya Antar Hai?|Difference of Machine And Robot?

रोबोट के कई विवरण हैं, और रोबोट को कई तरीकों से परिभाषित किया जा सकता है। एक मशीन की तुलना में, रोबोट को प्रोग्रामिंग के माध्यम से आसानी से पुन: कॉन्फ़िगर किया जा सकता है। हम रोबोट को एक छोटे मस्तिष्क के रूप में समझते हैं, लेकिन यह सामान्य मानव मस्तिष्क की तुलना में अधिक जटिल कार्यों को दोहराने में सक्षम है। पर, इसमें इतना कौशल होने के बावजूद भी यह सिर्फ एक बुद्धिमान मशीन के अलावा ओर कुछ नही है।

एक रोबोट या “बॉट” आमतौर पर एक डिजिटल एजेंट के रूप में काम करता है। विभिन्न social Messenger या किसी भी ऑनलाइन Conversation को इसका एक उत्कृष्ट उदाहरण माना जा सकता है।कुछ उन्नत प्रकृति के बॉट कई तरह के खेल खेलने में सक्षम होते हैं और उनमें एक प्रकार की सीमित कृत्रिम बुद्धि होती है।

आजकल, ह्यूमनॉइड रोबोट कई तरह के जटिल कार्यों में शामिल हैं, जिनमें सुरक्षा से लेकर विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं, शारीरिक विज्ञान या चिकित्सा विज्ञान की प्रारंभिक पहचान तक शामिल है। कृत्रिम बुद्धिमत्ता को बच्चों के साथ खेलने के लिए अच्छे ओर मज़ेदार Toned human interface में एक खिलौने के रूप में भी दिखाई पड़ता है। इन सब के बावजूद बी,वे अभी भी केवल एक रोबोट हैं और उनके पास अपना दिमाग नहीं है। इनके पास बात करने कि क्षमता, किसी वस्तु को स्थानांतरित करने और वस्तुओं को पकड़ने का बेहतरीन कौशल है, फिर भी एक रोबोट अभी भी-केवल एक रोबोट हैं।

Robot V/R Machine in Hindi.

रोबोट

  • रोबोट एक मशीन है जो स्वतंत्र रूप से अपना काम को पूरा करता है।
  • रोबोट एक बुद्धिमान उपकरण है जो एक मशीन की तुलना में ओर अधिक काम करने में सक्षम होता है।
  • एक रोवोट प्रोग्रामिं के जरिए जटिल कामो को पूरा करने के लिए बनाई गई मशीन है, जिसे जरुरत के हिसाव प्रोग्राम किया जा सकता है।
  • एक रोबोट की अपनी बुद्धि होता है।
  • रोबोट, आमतौर पर सेंसर के द्वारा अपने काम को संचालित करता हैं।
  • मशीन एक भौतिक उपकरण है, जो उपयोगकर्ताओं द्वारा बाहरी स्वचालन नियंत्रण प्रणाली के साथ नियंत्रण किय़ा जाता है।
  • अधिकतर,मशीने एक यांत्रिक या विद्युतीय उपकरण होता है ,जो मानव कार्यों में 
    सहायता करता है। 
  • एक मशीन को जानवरों या मानव द्वारा, प्राकृतिक बलों या रासायनिक द्वारा , थर्मल या फिर विद्युतीय शक्ति द्वारा संचालित किया जा सकता है। 
  • मशीनों की देखरेख और नियंत्रण दूसरों के द्वारा किया जाता है।
  • मशीनों में कोई संवेदक(Sensor) ना होने के कारन भारी मात्रा में नुकसान का कारण बन  सकता है।

Robots के Classifications. :-

Movement के हिसाव से robots मुख्यत दो प्रकार के होते हैं।

१). पैर वाला रोबोट(Legged Robot).

Legged रोबोट, लेग मैकेनिज्म द्वारा अपने आप चलने में सक्षम रोबोट है। इस प्रकार के रोबोट चलने के लिए पैर Leg मैकेनिज्म से समृद्ध होता हैं। लेग मैकेनिज्म वाले रोबोट, पहिए वाले रोबोट की तुलना में अधिक कुशलता से विभिन्न कठिन क्षेत्रों को पार करने में सक्षम होते हैं।

२). पहिएदार रोबोट(Wheeled Robot).

“पहिएदार रोबोट” आसानी से खुद को संचालित करने के लिए मोटर चालित पहियों की मदद से जमीन पर चल फिर सकता हैं, इस प्रकार का रोबोट पैर वाले रोबोट की तुलना में सरल होते है। समतल भूभाग पर चलने के लिए, यह पैर वाले रोबोट की तुलना में कम खर्चीला हैं। चक्के वाले रोबोट अन्य प्रकार रोबोट की तुलना में आसानि नियंत्रण किया जा सकता हैं।

आवश्यकता के अनुसार इनके पहियों कि संख्या भी भिन्न हौ सकते हैं। स्थिरता और संतुलन के लिए न्यूनतम तीन पहियों की आवश्यकता होती है।अतिरिक्त पहिया ओर भी बेहतर संतुलन दे सकता है। लेकिन इलाके समतल ना होने पर सभी पहियों को जमीन पर रखने के लिए अतिरिक्त तंत्र की जरूरत परती है।

Types of Robots in Terms of Working In Hindi.

विभिन्न प्रकार के रोबोट विभिन्न प्रकार के काम करते हैं। प्रत्येक रोबोट की अपनी अनूठी विशेषताएं होती हैं। प्रत्येक रोबोट उनके आकार और कार्य विशिष्टता के साथ अलग-अलग होती हैं। एक रोबोट को spare parts assembling  के लिए डिज़ाइन और प्रोग्राम किया गया है, और यह बस यही करता है। इसी तरह, वेल्डिंग के लिए डिज़ाइन किया गया एक रोबोट उसी काम को करता है। नीचे विभिन्न प्रकार के रोबोटों के बारे मे संक्षिप्त चर्चा कि गई है।

Pre-Programmed Robots.

Pre-programmed रोबोट एक ऐसा रोबोट हैं जो पहले से ही अपने विशिष्ट कार्यों के बारे में जानते हैं और इसे प्रोग्रामिंग द्वारा निर्धारित किए जाते हैं। फिर वे उसी हिसाव से आपने काम को पुरा करते हैं। इस प्रकार के रोबोट काम करते समय अपने व्यवहार को नहीं बदलते हैं और इस प्रकार के रोबोट को किसी भी मानव द्वारा कार्यों का प्रबंधन करने का निर्देश नहीं दिया जाता है।

Humanoid Robots.

ह्यूमनॉइड रोबोट एक ऐसा रोबोट है जो मानव की तरह दिखता है या व्यवहार करता है। ये रोबोट मानव जैसी गतिविधियां कर सकते हैं। इस प्रकार के रोबोट मनुष्यों की तरह दिखते हैं और महसूस करते हैं, यहाँ तक कि उनके चेहरे की बनावट भी।

ह्यूमनॉइड रोबोट का उपयोग विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं का निरीक्षण, रखरखाव और प्रतिक्रिया करने के लिए किया जाता है, ताकि मानव श्रम और खतरनाक काम को मुक्त किया जा सके।“सोफिया”  ह्यूमनॉइड रोबोट का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।

Autonomous robots.

आमतौर पर स्वायत्त रोबोट खुले वातावरण में काम को पुरा करने के हिसाव से डिज़ाइन किए जाते हैं, जिसके लिए मानव पर्यवेक्षण की जरूरत नहीं होता है।इस प्रकार के रोबोट पर्यावरण से जानकारी जुटाकर  किसी भी मानवीय हस्तक्षेप के बिना ही काम करने में सक्षम हैं। इस तरह का आत्मनिर्भर रोबोट मानव सहायता के बिना पूरे ऑपरेशन के दौरान आसानी से आपने काम को पुरा कर सकता है।

Teleoperated Robots.

टेलीपोर्नेटेड रोबोट एक यांत्रिक बॉट(Bot) हैं जिन्हें मनुष्यों के द्वारा दूरसे  नियंत्रित किया जाता है। ये रोबोट आमतौर पर अत्यधिक कठीन भौगोलिक परिस्थितियों में काम करने मे सक्षम होते हैं। इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के भी कुछ प्रकार हो सकते हैं।मानव-नियंत्रित पनडुब्बियां, ड्रोन का उपयोग टेलीफोर्नेटेड रोबोट का सबसे अच्छा उदाहरण है। इस प्रकार के रोबोट ज्यादातर चिकित्सा सर्जरी और सैन्य अभियानों में उपयोग किए जाते हैं।

Augmenting Robots.

इस प्रकृति के रोबोट मनुष्य की कार्यक्षमता को बढ़ाने मे या मनुष्य की खोई हुई शक्ति को प्रतिस्थापित करने मे मदद करता हैं। ऑगमेंटिंग रोबोट व्यक्ति की खोई होयि क्षमताओं को लौटाता है ।रोबोटिक “कृत्रिम अंग” इसका एक आदर्श उदाहरण है।

Aerospace.

इस श्रेणी के रोबोट में सभी प्रकार के फ्लाइंग(Flying) रोबोट शामिल हैं – जैसे कि स्मार्टबर्ड रोबोट सीगल (SmartBird robotic seagull) या  रेवेन(Raven) निगरानी करने बाला ड्रोन  या फिर अंतरिक्ष में काम करने बाला  मंगल रोवर(Mars rovers), आदि ऐसे रोबोट के उदाहरण हैं।

Disaster Response.

इस प्रकार के रोबोट जटिल कार्य करते हैं,जैसे कि आपातकाल की खतरनाक स्थितियों में लोगों की खोज करना आदि। इसका उपयोग 2011 में आयें जापान की भूकंप और सूनामी के दौरान क्षतिग्रस्त परमाणु पॉवर प्लांट का का परीक्षण करने के लिए किया गया था।

Drones

इस प्रकार के रोबोट को मानव रहित विमान के रूप में भी जाना जाता है। इस प्रकार का रोबोट स्वचालित रूप से आसमान में उड़ने में सक्षम है। ड्रोन विभिन्न आकारों और विभिन्न स्तरों के हो सकते हैं। ये ड्रोन आमतौर पर लंबी अवधि की निगरानी, ​​आपातकालीन स्थितियों या सैन्य प्रबंधन के लिए उपयोग किए जाते हैं

Education.

इस प्रकार का रोबोट अगली पीढ़ी के, घर पर या कक्षा में प्रोग्रामिंग के माध्यम से शिक्षण(Teaching) कि उद्देश्यों के साथ इसका उपयोग करने की योजना पर काम कर रहा है।

 Entertainment.

ये रोबोट संवेदनशील प्रतिक्रियाओं को विकसित करने में सक्षम हैं। इस प्रकार के रोबोट हमें हंसने, डराने या हमें आश्चर्यचकित करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं

 Military & Security.

इस प्रकार के सैन्य रोबोटों का उपयोग अंतर्राष्ट्रीय चरमपंथ को नियंत्रित करने या उच्च विस्फोटक उपकरणों का पता लगाने और निष्क्रिय करने के लिए किया जाता है। बिगडॉग या कोबाल्ट जैसे स्वचालित मोबाइल सिस्टम रोबोट इसके वास्तविक उदाहरण हैं।

Telepresence.

इस प्रकृति के रोबोट आपको वास्तविक स्थान पर न जाकर भी उस स्थान पर मौजूद होने का अनुभूति देता हैं। यह सहकर्मियों को दूर स्थित कार्यालय में सहकर्मियों के साथ सहयोग करने या चिकित्सकों को एक दूर स्थान में रोगियों की जांच करने मे उपयोग किया जाता है।

Underwater. 

इन रोबोटों का वास्तविक कार्यस्थल पानी में है। ये रोबोट गहरे समुद्र में जलमग्न होते हुए समुद्री जैव विविधता की खोज और एकत्रीकरण में लगे हुए हैं।

Industrial. 

औद्योगिक रोबोट में एक जोड़तोड़ करने वाला हाथ होता है जो बार-बार विशिष्ट कार्यों को करने में सक्षम होता है और इसी तरह उन्हें डिजाइन किया जाता है। वे आमतौर पर कार निर्माताओं में उपयोग किए जाते हैं।”Unimate”नाम का यह दुनिय़ा सवसे पेहला औद्योगिक रोबोट सबसे अच्छा उदाहरण है।

विभिन्न प्रकार के Industrial Robots:-

  • Articulated Robots.
  • Cartesian Robots.
  • Cylindrical Robots.
  • Polar Robots.
  • Scara Robots.
  • Delta Robots.

Robots के फायदे और नुकसान

नीचे रोबोट का उपयोग करने के कुछ फायदे और नुकसान के बारे मे बताए गए हैं।

रोबोट के फायदे:-

१).रोबोट बिना किसी गलती के बहुत तेज़ी से और कुशलता से कार्यों को पूरा कर सकता है।

२).क्योंकि रोबोट संचालित हैं, वे मानव हस्तक्षेप के बिना ही कई प्रकार के कार्य करने में सक्षम हैं।

३).उनका उपयोग विमान के spare parts, कार के spare parts या विभिन्न निर्माण कारख़ानों में सही उत्पादन के लिए किया जाता है।

४).उनका उपयोग खुदाई के उद्देश्यों से किया जा सकता है या किसी खोज के उद्देश्यों से पृथ्वी के केंद्र में भेजा जा सकता है।

रोबोट के नुकसान:- 

१).उत्पाद कारख़ानों में रोबोट को चलाए रखने के लिए बहुत सारी बिजली की जरूरत होती है।

२).उनके उपयोग से कारख़ानों में काम करने वाले लोगों के रोज़गार खोने की संभावना पैदा होती है।

३).उनके माध्यम से काम करना जारी रखने के लिए उच्च रखरखाव और ख़र्चा होती है।

४).वे प्रोग्रामिंग से बाहर अलग कुछ नहीं कर सकते।

५).इसका सबसे बड़ा नुकसान यह है कि, अगर रोबोट का प्रोग्राम  किसी गलत हाथों में पर जाता है, तो वे भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

रोबोट का उपयोग कहा पे किया जाता है?

१).Manufacturing Plants.
२).Logistics.
३).At Home.
४).Travel Industries.
५).Healthcare Industries.
६). Various Research Centres.
७).In Deep Water.
८).Mining Industries.

FAQs.

Q).pahale robot ka naam kya tha?

A).पहले कमर्शियल, डिजिटल रोबोट का नाम Unimate था।

Q).robot ka aviskar kisne kiya?

A).1954 में, George Devol ने पहला वाणिज्यिक, डिजिटल प्रोग्रामेबल रोबोट बनाया था।

Q).robot kya kya kaam kar sakta hai?

A).रोबोट एक Multi Player Worker होता है। विभिन्न रोबोट विभिन्न विशिष्ट कार्य करने के उद्देश्यों से बनाए जाते हैं। वे भारी औद्योगिक कारखानों में सुरक्षित और जल्दी  चीजों को उठाने मे या बोल्टों को अच्छी तरह से कसने मे माहिर हैं। औद्योगिक कारखाने मे उत्पादन बढ़ाने के लिए बिना किसी ब्रेक के वे काम कर सकते हैं।

रोबोट का उपयोग विभिन्न कारखानों जैसे कार, कैंडी बार और इलेक्ट्रॉनिक्स मेकिंग में किया जाता है। दवाई बनाने, सैन्य उपकरण ले जाने और गहरे समुद्रों की खोज के लिए रोबोट का उपयोग किया जा रहा है।

Q).Robot Kaise Kaam Karta Hai?

A).रोबोट में एक चलती भौतिक संरचना, एक मोटर, एक सेंसर प्रणाली और एक बिजली की आपूर्ति घटक होते हैं। एक कंप्यूटर प्रोसेसर मानव मस्तिष्क की तरह इन सभी तत्वों को संभालता है और नियंत्रित करता है।

आखिर में:- 

इस लेख के माध्यम से हमने Robot Kya Hai?ओर रोबोट कैसे काम करता है?इसके बारे मे विस्तार से जाना ओर इसके अलावा मुझे उम्मीद है कि आपको मेरा  यह लेख पसंद आया होगा ओर साथ ही इस  Blog पर publish कि गई सवी Articles आपको पसंद आरहे है। इस तरह के और अपडेट पाने के लिए मेरे ब्लॉग को जरूर सब्सक्राइब करें।

About The Author

BISWAJIT

Hi! Friends, this is Biswajit, the founder and author of 'DIGIPOLE HINDI'. He is interested in gathering valuable information related to digital marketing, such as affiliate marketing, blogging, earning money online, SEO, Adsense, technology, SEO tools, etc, and conveying the people in the form of articles.

Author:- I hope you will be able to get enough valuable information from this site and enjoy it. Thank you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *