Online Business kaise kare?online business in hindi

Online Business kaise kare?- वह समय अब चला गया है, जब एक व्यवसाय की योजना बनाना और उसे शुरू करना एक कठिन काम हुया करता था।

क्योंकि एक व्यवसाय की शुरुबात करने के लिए संबंधित रसद, उचित योजना, आवश्यक कौशल, संचार, विज्ञापन, और निश्चित रूप से सबसे बड़ा सिरदर्द यानी कि निवेश है।

लेकिन, इंटरनेट के बड़ते सुविधाएँ और उपयोग ने एक अनलाईन व्यवसाय को शुरू करना काफी आसान और फाएदेमन्द बना दिया है।

आज हर व्यक्ति जिसके पास एक उचित व्यवसाय योजना है, वे बिना कोई बड़ा निवेश के भी आपना अनलाईन व्यवसाय कि शुरुबात कर सकता है।

लेकिन, व्यवसाय कि शुरुबात से लेकर अनलाईन व्यवसाय मे सफलता हासिल करने के लिए आपको कुछ जरुरी steps को follow करने होंगे।

इस article मे ऐसे ही कुछ जरुरी steps सुझाए गए है जो आपके अनलाईन व्यवसाय के सफ़र को आसान और सफल बनाने मे आपकी मदद करेगा।

अगर आप भी उन लोगो मे से हे जो आपना क्षुद का एक व्यापार शुरु करने का सपना लिए होये हे तो ये article, आपको काफी मदद करने बाला है।

तो चलिए आगे बड़ते हे और जान ते हे कि,Online Business kaise kare?

What is online business in hindi?

हर वो व्यावसायिक गतिविधि जो इंटरनेट के माध्धम से खरीदा और बेचा जाता है वे सभी online business है। वो सभी गतिविधियां जहां उत्पादों और सेवाओं के भुगतान पर बातचीत किया जाता है और इंटरनेट के जरिए उत्पादों का भुगतान किया जाता उसे online business माना जाता है।

आसान शद्बौ मे समझा जाए तो, “ऑनलाइन व्यापार” ई-कॉमर्स जैसा ही होता है। ई-कॉमर्स एक प्रकार का व्यवसाय मॉडल है जहां हर एक वाणिज्यिक लेनदेन डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क यानि के ऑनलाइन माध्यम से किया जाता हैं।

ऑनलाइन ट्रेडिंग हो या ऑनलाइन सेवाए ये सभी ऑनलाइन व्यापार के श्रेणी मे आता है । जैसेकि,उदाहरण के तौर पर , Amazon ई-कॉमर्स व्यवसाय का एक जाना पहचाना नाम है, यह एक लोकप्रिय ऑनलाइन व्यवसाय है।

इसके अलाबा PayPal(PayPal Kya Hai? PayPal पर अकाउंट कैसे बनाये?), Netflix और Facebook ये सभी ऑनलाइन व्यवसाय या ई-कॉमर्स का एक बड़ा उदाहरण हैं।ये एक ऐसा व्यवसाय मॉडल हैं जो मुख्य रूप से इंटरनेट के माध्यम से संचालित किया जाता हैं।

बढ़ती वैश्विक ऑनलाइन कारोबार पर एक नजर।

आज के दिन इंटरनेट उपभोक्ता आपने रोजमर्रा की जिंदगी में कई तरह के ऑनलाइन कारोबार के साथ किसी ना किसी रुप से जुड़ा हुया हैं।

आज ऑनलाइन कारोबार इतनी उछाल पर हे कि कई लोगो का मानना ​​है कि ऑनलाइन कारोबार जल्द ही भौतिक खुदरा विक्रेताओं को पूरी तरह से खतम कर सकता है।

आज ऑनलाइन व्यापार जिस तेजी से आगे बड़ रहा हे उस हिसाब से आने बाले दशको मे इस बात की आशंका को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता।

ऑनलाइन व्यवसाय या ई-कॉमर्स (E commerce kya hai?) आज इतना बड़ा हो चुका हे कि चुनने के लिए आपको लाखों प्रकार के ऑनलाइन व्यवसाय मिल जाएंगे।

Amazon इस तरह के व्यवसाय का पावरहाउस माना जाता है। यह दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन मार्केटप्लेस है जहां डिजिटल उत्पाद से लेकर रोजमर्रा की जिंदगी के हर जरुरत के चिजे शामिल हैं।

पिछले कुछ सालो में, उपभोक्ता ऑनलाइन खरीदारी के साथ इतनी तेजी से जुड़ गए हैं कि स्थानीय स्टोरों पर इसका खासा प्रभाब पडा हैं और नतीजन सैकड़ों कि संखा मे भौतिक दुकानें ऑनलाइन व्यापार का सामना न कर पाने के कारण बंद हो गईं हैं।

हाल के दिनो मे कोरोनावायरस महामारी के चलते वैश्विक ऑनलाइन कारोबार मे काफी ज्यादा उछाल देखने को मिला हे। 2022 के एक आकडे के अनुसार केबल Amazon पर ही लगभग 3.13 बिलियन का मासिक विज़िट हुए है।

ऑनलाइन व्यापार के कई सुविधाओं के कारण आज लोगों की खरीदारी की आदतों में काफी बदलाव आया है। हालांकि, बहुत से लोग अभी भी खरीदारी के दौरान सड़क पर चलने हुये दुकानों से खरीदारी करना पसन्द करते हैं।

लेकिन, ऑनलाइन उपभोक्ता कि एक बड़ी संख्या अपनी सभी खरीदारी के लिए ऑनलाइन विकल्प को चुनते है।

भारत में ऑनलाइन व्यापार का विकास

ऑनलाइन व्यापार ने भारत में व्यापार के तरीके को बदल दिया है और यह व्यापार 2025 तक बढ़कर 188 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद कि जा रही है।

भारत मे ऑनलाइन उद्योग का अधिकांश विकास इंटरनेट और लोगो तक अधिक से अधिक स्मार्टफोन की पहुंच में वृद्धि से शुरू हुआ है।

भारत मे ‘डिजिटल इंडिया’ कार्यक्रम के तहत, 2021 तक के आकड़े के अनुसार इंटरनेट कनेक्शन की संख्या मे उल्लेखनीय रूप से वृद्धि हुया है और यह कुल इंटरनेट कनेक्शन कि 55 फिसदि बताए जाता है।

भारत में इंटरनेट की बढ़ती हुई पहुंच और उभरती अर्थव्यवस्था के कारण ई-बिजनेस का दाएरा काफी बड़ गया है और साथही विविध व्यावसायिक अवसर पैदा कर रहा है और लोगो को ई-व्यावसाय के लिए प्रेरित कर रहा है।

भारत मे कम लागत वाले डेटा एक्सेस के कारण इंटरनेट उपयोगकर्ताओं मे अनलाईन खरीदारी मे रुची बड़ी है। चाहे वे भारतीय रेलवे से ई-टिकट कि खरीदी हो या फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स याफिर कोई लाइफस्टाइल प्रोडक्ट्स, लोगो को अब ऑनलाइन खरीदारी की आदत सी होने लगा है।

भारत मे उपभोक्ताओं के खरीदारी कि पैटर्न में धीरे-धीरे बदलाव के कारण अनलाईन-व्यपार में स्टार्ट-अप की भरमार है। ई-व्यपार के वितरण और वापसी नीतियों एबम भुगतान के विविध विकल्प के चलते उपभोक्ता अब ऑनलाइन खरीदारी को ज्यादा पसन्द करता है।

इसी के चलते अब बहुत सारे खुदरा व्यपारी आपने व्यपार को ऑनलाइन पेश कर रहे है और आपने व्यपार का विस्तार कर रहा है।

अमेज़ॅन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, ओला , पेटीएम, इनमोबी, ज़ोमैटो, और भी कई अन्य स्टार्ट-अप जो भारत के ई-कॉमर्स उद्योग मे विकास को बढ़ावा दे रहे हैं।

व्यवसाय को ऑनलाइन लाने की आवश्यकता क्यों है?

ई-कामर्स की बढ़ती लोकप्रियता आपके व्यवसाय को ऑनलाइन शुरू करने का सबसे बड़े कारणो मे से एक है। 2020 तक, दुनिया भर में डिजिटल खरीदारों दो अरब तक पहुंच चुकि है।

एक आकडे के अनुसार, 2040 तक, उपभोक्ता अपने 95 फिसदी खरीदारी इंटरनेट के माध्यम से करने बाले है।

आपके व्यवसाय को ऑनलाइन लाने की एक और बड़ी बजाह ये हे कि, यह उपभोक्ताओ के बीच आपके व्यवसाय के प्रति विश्वास बढ़ाता है, जिससे ग्राहक आपके व्यवसाय मे अधिक आत्मविश्वास और सहजता महसूस करता हैं।

माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार, ऑनलाइन खरीदारी मे लोगो की हिस्सेदारी दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है।

ऑनलाइन व्यपार(online business in hindi) का सबसे बडा फाएदा यह है कि, एक ऑनलाइन उपस्थिति आपको एक मजबूत ग्राहक संबंध के साथ, आपने व्यवसाय को लंबे समय तक चलाने में मदद करता है।

KPMG, के अनुसार, ग्राहक व्यवसायों के प्रति तब तक वफादार रहते हैं यब तक वे उत्कृष्ट ग्राहक परिसेबाए और व्यक्तिगत अनुभव साझा करता हैं।

आपना ऑनलाइन व्यवसाय कैसे चुनें?

आप शायद ऑनलाइन व्यवसाय के लिए कौन सा niche चुनना है, इस उलझन में हैं? दरअसल, ऑनलाइन कारोबार के लिए संभावनाएं अनंत हैं। इसके बावजूद भी, कई लोगों को उलझन होता कि आखीर कहां से शुरू करें।

आपने ऑनलाइन करियर शुरू करते समय, पहले आपको अपने मौजूदा ताकत और कौशल के बारे में सोच लेने चाहीए कि आप किस टपिक पर खुद को अधिकतर सहज महसुस करते हे क्योंकि किसी विषय पर खास ज्ञान आपके लिए एक प्रमुख भूमिका निभाता है।

दरसल, आप जिस क्षेत्र से संबंधित हैं, उस पर आपकी पकढ़ कितनी हे उस आधार पर आपकी खुद की मार्केटिंग, आपकी क्षमता , आपकी विकास और कमाई निर्भर है।लेकिन, अगर आपके पास ऑनलाइन व्यवसाय को चलाने के लिए किसी भी चीज़ का उचित ज्ञान नहीं है तो भी आप चिंता न करें, क्योकि आजकल लगभग सभी कुछ ऑनलाइन सीखना संभव है।

लेकिन , सवाल यह है कि क्या आप एक नए कौशल के निर्माण के लिए समय, ऊर्जा और संसाधनों पर निवेश करने को तैयार हैं? हा पर एकदम से आप किसी भी बिषय का expert नही बन सकते लेकिन, मेहनत, समय और लगन आपको वे सबकुछ शिखा देता हे जौ आप सिखना चाहते है।

उदाहरण के तौर पर अगर मे आपनी बात करु तो मेने जब आपनी ऑनलाइन केरियर कि शुरुबात कि थी तब मुझे कनटेन्ट केसे लिंखा जाता है, SEO क्या है? कैसे किया जाता हे , Images कैसे तैयार किया जाता हे, इन सबके बारे में ज्यादा जानकारीया नही थी ,इन चिजो को समय के साथ-साथ हासिल कि।

इसी लिए आपके वांछित क्षेत्र में तकनीकी ज्ञान की कमी का होना कोई ज्यादा बड़ी बात नहीं है, लेकिन हा यह आपके सफलता मे थोड़ा सा देरी का कारण जरुर बन सकता है।

बस यही कारण है कि आपको आपना online business शुरू करने से पहले अपने संबंधित क्षेत्र में अपने ज्ञान और शिक्षा को ध्यान में रखना चाहिए।

चलिए इस और एक उदाहरण के जरिए समझते हैं, मान लीजिए कि आप इंजीनियरिंग पर आपनी योग्यता रखते है तो , पत्रकारिता में आप कुछ खास नही लिख सकते हैं, उसी तरह पत्रकारिता करने बाला व्यक्ति भी इंजीनियरिंग के बिषय पर खास नही लिख सकते।

Online business चुनते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

जब आप अपने ऑनलाइन व्यापार पर विचार कर रहे हों तो आपको कुछ चिजो पर खास ध्वान देने की ज़रूरत है। जैसेकि आपको किस तरह के काम करना पसंद है, आपके काम करने की शैली ,आपके स्वभाव और इस उद्यम के लिए आपके उपलब्धी कितना उपयुक्त है आदि।

आपने व्यवसाय को लम्वे समय तक टिकाए रखने के लिए एक strategy के साथ ऑनलाइन व्यवसाय का चुनना, फिर उसे आपके हित के लिए काम कराना, और नए कौशल सीखने जैसे चिजो पर बहुत दृढ़ होने की आवश्यकता है।

आसान शद्वो मे कहा जाए तो, आपको इसे एक करियर परिवर्तन के रूप में लेने कि जरुरत है।

इसे एक करियर परिवर्तन के रूप में सोचें, जो कि यह है, और अपने आप से उसी तरह के प्रश्न पूछें जैसे आप पूछेंगे कि क्या आप करियर में कोई बदलाव कर रहे हैं। यह बहुत स्पष्ट होने का समय है

ऑनलाइन व्यापार पर विचार करते समय आपको जिन बातो पर खास ध्वान देने कि जरुरत हे वे नीचे दिए गए कुछ इस प्रकार है।

  • बिषय पर आपकी व्यक्तिगत ज्ञान
  • आपकी पसंद क्या हैं
  • आपकी रुचियां, और काम के प्रति जुनून
  • आप वास्तव में क्या अच्छा कर सकते हैं
  • आपका अनुभव कितना उपियोगी है
  • आप कैसे काम करना पसंद करते हैं
  • क्या आप चुने गए काम के लिए आपना सर्वश्रेष्ठ श्रम दे सकते हैं
  • आपके कनटेन्ट का स्तर
  • बिषय पर आप कितना रचनात्मक हो सकते हैं( नए-नए विचार, डिजाइन, लेखन)आदि
  • किस तरह के काम आपको सबसे ज्यादा उत्साहित करता है

Online Business kaise kare?

एक ऑनलाइन प्रतिष्ठान चलाने के लिए आप आइटम की एक विशाल विविधता को सूचीबद्ध कर सकते हैं। जैसेकि, web developing, App developing, SEO consultancy, Freelancing (Freelancer kya Hai?Freelancer kaise Bane?), Website building, E-Commerce business, online store, Online tutorial और भी बहुत कुछ।

पर ऑनलाइन व्यवसाय के लिए एक नए स्टार्टअप के रूप में या अगर आपको ऑनलाइन व्यवसाय के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, तो आप एक बुनियादी ऑनलाइन व्यवसाय से आपना शुरूबात कर सकते हैं जिसमें न्यूनतम निवेश और कौशल की आवश्यकता होती है।

एक बार जब आप इन व्यवसायों में अच्छा अनुभव प्राप्त कर लेते हैं, तो फिर आप अन्य अधिक लाभदायक व्यावसायिक विचारों की ओर भी बढ़ सकते हैं।

यहां कुछ ऐसे ही आईडिया दिए गए हैं जो आपको शुरुआती दिन से ही ऑनलाइन व्यापार यात्रा शुरू करने में मदद कर सकते हैं।

  • एक ब्लॉग की शुरूबात करें और पैसा कमाएं:- ब्लॉग आज एक प्रसिद्ध शब्द है क्योंकि यह ऑनलाइन व्यवसाय शुरू करने के सबसे सफल तरीकों में से एक है। आज हजारों ब्लॉगर अपने ब्लॉग के माध्यम से सफल ऑनलाइन व्यवसाय चला रहे हैं और आकर्षक कमाई कर रहे हैं।

ब्लॉग कैसे शुरू करें?

दरअसल, आज एक ब्लॉग शुरू करना बहुत आसान है, और इसके साथ पैसे कमाने के कई तरीके हैं और Google AdSense का उपयोग करके विज्ञापन प्रदर्शित करना आपके ब्लॉग को मुद्रीकृत करने के सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक है।

आप आधे घंटे से भी कम समय में कुछ क्लिक के भीतर एक ब्लॉग को शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आपको केबल एक Domain और Hosting कि जरुरत होगी।

Hosting के लिए आप Bluehost के web hosting को चुन सकते हे जहा आपको अधिक किफायिती मूल्ल के साथ-साथ एक free Domain भी मिल जाएंगे।

अब जब आपना ब्लॉग का सटअप करलेते हे तो, इसे सफल बनाने के लिए आपको बस उस पर काम करने की आवश्यकता है।

आपको नियमित रूप से अपने दर्शकों को आपने साथ जुड़ने के लिए कनटेन्ट प्रकाशित करने होंगे (ब्लॉग कैसे शुरू करें इसके बारे में अधिक जानने के लिए कृपया (“अपना खुद का ब्लॉग कैसे शुरू करें?” पर क्लिक करें)।

अब जब एक बार आपके ब्लॉग पर ट्रैफ़िक आना शुरू हो जाता हैं, तो आप इसे अन्य ऑनलाइन व्यवसायों को लॉन्च करने के लिए एक व्यावसायिक प्लेटफ़ॉर्म के रूप में इसका उपयोग कर सकते हैं।

  • Affiliate Marketing website शुरू करें:-

एफिलिएट मार्केटिंग, ऑनलाइन से पैसे कमाने का सबसे आसान तरीका है। अगर आपको नहीं पता हे कि Affiliate Marketing क्या हे? और इसे कैसे शुरू करें? तो फिर इस लेख को पढ़ें Affiliate Marketing कैसे शुरू करें?

एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए?

बहुत सारे ऑनलाइन बाज़ार हैं, जहाँ पर आप अन्य तृतीय-पक्षो के उत्पादों का प्रचार शुरू करने के लिए क्षुद को एक एफिलिएट मार्केटर के रूप में पंजीकृत कर सकते हैं।

इस तरह आप अपनी वेबसाइट के माध्यम से उनके उत्पाद को बढ़ावा देकर एक कमीशन कमा सकते हैं। इस प्रकार, जब कोई उपभोक्ता आपके एफिलिएट लिंक पर क्लिक करता है और आपकी वेबसाइट के माध्धम से किसी भी उत्पाद की खरीदारी करता है तो आपको कुछ राशि कमीशन के रूप में प्राप्त होगी। लेकिन इसके लिए आपको आपनी एक वेबसाइट बनाने होंगे।

  • ई-कॉमर्स व्यवसाय शुरू करें:-

अगर आप अधिक लाभदायक ऑनलाइन व्यापार की तलाश में हैं, तो ईकॉमर्स व्यवसाय घर बेठे पैसे कमाने का सर्वोत्तम तरीकों में से एक है जहां आप अपनी वेबसाइट के माध्यम से दूसरों के उत्पाद बेच सकते हैं एबम मुनाफा कमा सकते है।

और अगर आप बिना किसी वेबसाइट के अपना ऑनलाइन व्यवसाय चलाना पसंद करते हैं, तो आप इसे ई-मार्केटप्लेस के माध्यम से भी चला सकते हैं।

ऐसे कई प्रकार के ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस उपलब्ध हैं जहां आप अपना पंजीकरण करा सकते हैं और कम निवेश मे अपना ऑनलाइन स्टोर खोल सकते हैं।

Amazon, Flipkart, Snapdeal, Shopify, Indiamart जैसे कई ऐसे लोकप्रिय ई-मार्केटप्लेस हैं, जहां से आप आसानी से अपनी ऑनलाइन यात्रा शुरू कर सकते हैं।

  • सोशल मीडिया प्रबंधन सेवाएं शुरू करें

हर ब्रांड अब अपने उत्पादों या सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए सोशल मीडिया मार्केटिंग का सहारा लेता है। सोशल मीडिया ऑनलाइन मार्केटिंग का एक बड़ा माध्धम है ,और इसी लिए आज कई व्यवसाय हे जो इसमें निवेश कर रहे हैं।

कई व्यवसाय प्रतिष्ठान आपने व्यवसाय से जुड़े अन्य कामो को सम्भाले हुये सोशल मीडिया खातों को प्रबंधित करने का मौका ही नही मिलता जोकि आखिरकार उनकी व्यवसाय के लिए हानिकारक होता है।

इसको समझते होये कई व्यवसाय प्रतिष्ठान सोशल मीडिया मे आपने ब्रैंड को बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया प्रबंधन सेवाओ कि तलाश मे रहता।अगर आपके पास भी इस तरह की skill है और सोशल मीडिया मार्केटिंग को अच्छी तरह समझते हैं तो आप भी इसे एक online business के तौर पर ले सकते है।

Conclusion

इस article मे सुझाए गय सभी online business वैध और प्रमाणिक है। इन मे से आप आपने हिसाब से किसी भी व्यापसाए को चुन सकते है।

लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दे कि online business मे सफलता पाने का कोई शॉर्टकट उपाए नही है, आपको इसके लिए समय देना होगा और लगातर काम करते रहना होगा।

ऐसे मे, अगर कोई आपसे कहता है कि, उनके द्वारा बताए गए तरीको के साथ पैसा निवेश करते हे तो आप बहुत जल्द अमीर बन जाएंगे, तो सम्बल जाए क्योकि यह एक धोखाधड़ी हो सकता है और आपको हमेशा इनसे दूरी बनाए रखने कि जरुरत है।

उम्मीद हे कि online business kaise kare इसके बारे मे काफी कुछ जानने को मिला होगा। इसके बारे मे आपकी कोई राय़ याफिर सुझाब हो तो कृपया हमे कमेन्ट करे साथही online earning , blogging आदि के बारे मे नई-नई जानकारीया प्राप्त करने के लिए हमे Subscribe करे।

About The Author

Author and Founder digipole hindi

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *