गूगल क्या है?what is google in hindi?google meaning in hindi

आज, लगभग हर कोई जो इंटरनेट की दुनिया से जुड़ै होये है, “Google” शब्द से अच्छी तरह से परिचित है। लेकिन अधिकांश लोग इसे केवल एक खोज इंजन के रूप में ही जानते हैं।

जो इसके बारे में थोडा और अधिक जानते हैं वह ये कि, यह दुनिया का सबसे बड़ा खोज इंजन है। जो लोगों की खोज क्वेरी के अनुसार उनके परिणाम खोजने मे मदद करता हैं। लेकिन वास्तव में इसके बारे में लोग जितना जानते हैं ये उससे कहीं अधिक है। इस लेख में, मैं आपको बताने जा रहा हूं कि वास्तव में गूगल क्या है?

Google को द्वैत खोज इंजन क्यों कहा जाता है? और यह कैसे विभिन्न दैनिक कार्यों में हमारी मदद करता है।तो चलिए शुरू करते हैं और जानलेते है Google क्या है?

What is google in hindi?

अगर इसे एक संज्ञा के रूप में लिया जाए तो, यह इंटरनेट के माध्यम से जानकारी खोजने के लिए एक खोज इंजन के ब्रांड को संदर्भित करता है। एक ऐसा इंजन जो कंप्यूटर प्रोग्रामस का उपयोग करके इंटरनेट पर लोगो के लिए जानकारीया खोजने का काम करता है।

दरसल, यह एक बहुराष्ट्रीय,एबम सार्वजनिक व्यापारिक संगठन है जिसे खास कर एक लोकप्रिय सर्च इंजन के निर्माता और निर्देशक के रूप में मान्यता दिया जाता हैं।

हलाकि, सर्च इंजन के अलाबा भी इसके कोई लोकप्रिय अन्य सॉफ्टवेयर उत्पाद(Google products) इंटरनेट कि दुनिया में छाया होया है और इन मे से प्रमुख उत्पाद कुछ इस प्रकार है:

Analytics, Cloud Computing, Gmail , Android, Blogger, Chrome OS, Chromebook, Ad Manager, Google Ads, AdSense, Alerts, Google Assistant, Classroom, Web store, Docs, Drive जैसे कई अनेको उत्पादे शामिल है।

दरसल, इसके पास सॉफ़्टवेयर उत्पादो कि एक लंबी सूची हैं जिनमे वेब ऐप से लेकर ब्राउज़र और ऑपरेटिंग सिस्टम तक शामिल हैं और लगातर इसकी विकास जारी है।

Google meaning in hindi

यह दरसल एक ब्रांड का नाम हे जोकि एक प्रमुख इंटरनेट खोज इंजन है, जिसकी स्थापना 1998 में लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने की थी। असल मे, यह एक खोज परियोजना के रूप में शुरू हुआ जब वे दोनों वर्ष1996 में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पीएचडी की पढ़ाई कर रहे थे।

इस शोध अवधि में, उन्होंने एक खोज इंजन एल्गोरिथम को विकसित किया जो न केवल सामग्री और कीवर्ड के द्वारा वेब पेजों को रैंक कर सकता है, बल्कि प्रत्येक वेबपेज के साथ कितने अन्य वेब पेज (इनकमिंग लिंक) जुड़े हुए हैं इस आधार पर भी काम करता है।

गुगल का फुल फॉर्म क्या है?

Google ka full form ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ ओरिएंटेड ग्रुप लैंग्वेज ऑफ अर्थ(Global Organization of Oriented Group Language of Earth) है।

Google शब्द इसकी खुद का एक रचनात्मक वर्तन है, जो 10 से 100 वीं शक्ति के बराबर कि संख्या है, या आसान भाषा में बोला जाए तो यह , एक अथाह संख्या है।

हलाकी, इसके नीब को 1930 के दशक में ही गढ़ा गया था , जिसका श्रेय तब के अमेरिकी गणितज्ञ एडवर्ड कास्नर(Edward Kasner) के नौ वर्षीय भतीजे को दिया जाता है।

इसका नाम “GOOGLE” कैसे पड़ा?

इसका नाम Googol शब्द से आया है, जब कंपनी का नाम यह रखा गया था, तब इस कंपनी के संस्थापकों ने इस शब्द का उपयोग करने का फैसला किया जोकि वास्तव में एक गणितीय शब्द है जिसे बहुत पहले ही एक गणितज्ञ के द्बारा नामांकित किया गया था।

गूगल, सुनने में यह आपको एक अजीब नाम की तरह लग सकता है, लेकिन क्या आपने कभी इस बात पर ध्यान दिया कि यह नाम कैसे पड़ा और यह नाम कहां से आया? आइए, इसके पीछे की सच्चाई को जानें?

दरअसल, इस शब्द की उत्पत्ति गणित के शब्द “गूगोल” से हुई है, जिसे वर्ष 1920 में पेश किया गया था।

दरअसल, वर्ष 1920 में एक अमेरिकी गणितज्ञ Edward Kasner ने अपने भतीजे Milton Sirota से 100 शून्य वाली संख्या को नामांकित करने के लिए एक नाम सुझाने में मदद करने को कहा।

Sirota ने तब “गूगोल” के रूप में एक नाम सुझाया और फिर Kasner ने भी इसी शब्द का उपयोग करने का फैसला लिया।

what is google in hindi

इसके बाद, यह शब्द 1940 में औपचारिक तौर पर एक गणितीय शब्द के रूप में शब्दकोष मे जोड़ लिया गया, जब Kasner ने
“Mathematics and the Imagination” नामक एक पुस्तक का सह-लेखन के दोरान 100 शून्य बाले संख्या का वर्णन करने के लिए Googol शब्द का इस्तेमाल किया।

1998 में, जब इसके संस्थापक लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन कंपनी का नामांकरन कर रहे थे, तो उन्होंने Googol शब्द पर फैसला लिया। लेकिन यहा एक मजेदार बात यह हे कि, उस के बाद ऐसा किया होया जो, Googol के बजाए कंपनी का नाम Google होना पड़ा।

तो चलिए, आगे इसके पिछे की कहानी को भी जान लेते है।

गूगल के पीछे का इतिहास

इसे अच्छी तरह से समझने के लिए, मुझे लगता है कि हमें पहले इसके पीछे के इतिहास को जानने की जरूरत है। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में से एक है और इसका हमारे दैनिक जीवन पर बड़ा प्रभाव है।

जब इसके फाउंडर लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने कंपनी की शुरुआत की क्या तब वे अंदाजा लगा सकते थे कि भविष्य में ये कंपनी इतना बड़ा होने बाला है। स्टैनफोर्ड की Origin of the name Google के अनुसार सितंबर 1997 में, यह अपने नाम के लिए विचार-मंथन कर रहा था।

तबि, स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में शोध अवधि के दौरान उनके सहयोगी छात्र Sean Anderson द्वारा पहली बार ‘googolplex’ नाम को प्रस्तावित किया था।

हालांकि, 1996 में, लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने पहले से ही अपने प्रारंभिक खोज इंजन के लिए बैकलिंक के संदर्भ के साथ “backrub” के रूप में एक नाम दिया होया था। लेकिन लैरी तेजी से सुधरती खोज तकनीक के लिए एक संभावित नए नाम की खोज कर रहा था।

लैरी ने तब संक्षिप्त रूप गूगोलप्लेक्स को ‘Googol’ के रूप में तय किया। तब तक सब कुछ ठीक ही था। लेकिन असली कहानी तब शुरू होता है जब लैरी ने रजिस्ट्री डेटाबेस पर डोमेन नाम की खोज की, यह देखने के लिए कि नया तय किया गया नाम पंजीकरण के लिए उपलब्ध था या नहीं।

सौभाग्य से या दुर्भाग्य से जो भी हो, लैरी ने टाइप करते समय उनकी वर्तन मे गलती कर दि ,बजाय googol को Google के तौर पर डोमेन नाम कि पंजीकरण कर दि।

तब से लेकर दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनी अब “GOOGLE” के नाम से गर्व के साथ खड़ी है। इसने अपनी पहली सेवा सार्वजनिक रूप से 19 अगस्त 2004 को शुरू की थी।

Google का मुख्यालय कहा है?

what is google in hindi

Googleplex संगठन का मुख्यालय है, और यह माउंटेन व्यू, कैलिफ़ोर्निया में स्थित है। यह एक ऐसा नाम है जो Google और कॉम्प्लेक्स शब्दों को मिलाकर बनाया गया है।

Googleplex 2004 में बनाया गया था। सबसे पहले इस जगह को 2003 में लीज पर लिया था और बाद में 2004 में इसे खरीद लिया।

गूगल कैसे कमाता है?

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी है जो इंटरनेट से जुड़े उत्पादों और सेवाओं के लिए प्रसिद्ध है।Google LLC वास्तव में मूल कंपनी, Alphabet Inc के अधिन काम करता हे और $ 85 प्रति शेयर के शुरुआती मूल्य के साथ टेक्नोलॉजी के बजार मे आपना स्वामित्व बनाए होये है। मई 2022 तक के आकड़ो के अनुसार, यह 2,116 डॉलर प्रति शेयर दर पर आपना कारोबार कर रहा है।

लेकिन, अब सवाल यह उठता है कि Google इतने सारे पैसे कैसे कमाता है ? जबकि हम जानते हैं कि इसका सर्च इंजन सभी के लिए बिल्कुल मुफ्त है।

दरअसल, यह कई तरह से पैसा कमाता है, जिसमें विज्ञापन, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर की बिक्री, क्लाउड सेवाएं और भी कई अन्य स्रोत इसमे शामिल हैं। हलाकी, बेसक इसका सर्च इंजन उपयोग के लिए मुफ्त है, लेकिन एक ऑनलाइन सर्च इंजन के रूप में, वे अपना मुख्य राजस्व विज्ञापन से कमाता है।

नि: शुल्क होने के कारण, उपयोगकर्ता के लिए गुगल सर्च इंजन के द्वारा प्रतिदिन लाखों कि संखा मे जानकारीया खोजते रहेते , यही पर वे आपना एल्गोरिदम का उपयोग करके खोज परिणामों के साथ विज्ञापन प्रदर्शित करता है।

इसके अलाबा, और भी कई तरीके से यह टेक कंपानी पैसे कमाते है, जैसेकि YouTube पर क्लाउड-आधारित सेवाओं, हार्डवेयर, Playstore और प्रीमियम content आदि से आपना राजस्व उत्पन्न करता है।

हलाकी, इंटरनेट खोज व्यवसाय में इसका सबसे बड़े प्रतियोगी माइक्रोसॉफ्ट के बिंग और याहू जैसे सर्च इंजन भी मौजुद हैं, लेकिन इन दोनों कंपनियों के पास अनलाईन बाजार की कुल हिस्सेदारी केवल 8 प्रतिशत का ही है।

जिसका मतलब यह है कि गुगल इस विशालकाय इंटरनेट साम्राज्य का एकेला प्रतिनिधित्व कर रहा है और अंतरिक्ष पर पुरी तरह से हावी है। इसकी कमाई के कुछ मुख्य स्त्रोत नीचे दिए गए है:

इसकी कमाई के मुख्य स्त्रोत क्या है?

यहां कुछ मुख्य स्रोत दिए गए हैं, जहां से यह अपना राजस्व उत्पन्न करता है।

  • Google Ads:- यह अपनी अधिकांश कमाई इस Ad service से कमाता है। Statista के अनुसार 2021 में इसका राजस्व में $209 बिलियन डॉलर से भी अधिक का योगदान था और ये search engine या YouTube वीडियो पर पाए गए हैं।
  • Hardware:- हालही में, इसने कुछ हार्डवेयर को पेश किया हैं जिनमें Google Pixel स्मार्टफोन, टैबलेट, लैपटॉप और ईयरबड जैसे लेटेस्ट और आधुनिक Devices शामिल हैं। इसके अलाबा Google Nest जैसे स्मार्ट होम उपकरन; और क्रोमकास्ट डिजिटल मीडिया प्लेयर भी इनमे शामिल हैं।आकड़ो के मुताबिक मई 2021 मे इसने हार्डवेयर ने करीब 6.1 बिलियन डॉलर का राजस्व अर्जित किया।
  • Google Cloud:- हालाँकि यह service मुफ़्त है लेकिन इसकी एक सीमा है। फ़्री लिमिट को क्रॉस करलेने के बाद, अतिरिक्त स्पेस के लिए $0.20 प्रति जीबी स्टोरेज के हिसाब से शुल्क लेता है इसके अलाबा नेटवर्क और संचालन के लिए अलग-अलग स्टोरेज स्पेस के लिए क्लास के अनुसार (Class A, Class B, class प्रति जीबी के हिसाब से शुल्क लिया जाता है।मई 2021मे इस क्लाउड स्टोरेज सेवा ने करीवन $19 बिलियन का मुनाफा कमाया है।
  • Playstore:- यह गुगल का एक ओर बड़ी कमाई का जरिया है। दरसल, यह एक ऐप वितरण सेवा है जिसमें सेवा-आधारित ऐप्स के साथ-साथ कई प्रकार के गेम भी उपलद्व हैं। प्रति माह $4.99 या $ 29.99 प्रति वर्ष के दरो पर Play Pass प्रदान करता हे।

अब तक हमने जाना कि गूगल क्या है? साथही जाना कि यह कैसे पैसे कमाता है, इसकि स्तापना कब होया और इसकी संस्तापाक कोन है आदि। चलिए आगे जान लेते हे कि इसकी असली मालिक कौन है?

गूगल का मालिक कौन है?

14-जून-2022 के Alphabet की रिपोर्ट के अनुसार, 2015 में फिर से कंपनी ने अपना नाम Alphabet Inc, में बदल दिया और अब यह सहायक कंपनियों के तौर पर एक प्रौद्योगिकी समूह के रूप में काम करता है।

अंदरूनी सूत्रो के रिपोर्ट के अनुसार , इसे दो भागों में संरचित किया गया है: Google, और दुसरा Stakes, जोकि अन्य व्यावसायिक उपक्रमों पर केंद्रित है। जैसे कि FitBit, Waze और YouTube आदि।

लेकिन, Google या Alphabet का नियंत्रण अभी भी संस्था 51% मतदान शक्ति के साथ इसके सह-संस्थापक, लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन के पास है।

दरसल , कंपनी के पास Class A, Class B and Class C के तहत तीन अलग-अलग प्रकार के स्टॉक हैं; और ब्रायन और पेज ने अपने Class B और Class C शेयरों के साथ कंपनी के शेयरों पर अपना नियंत्रण बनाए रंखा।

Conclusion

उम्मीद हे कि गूगल क्या है? वे कैसे कमाता है, इसकी स्तापना कब और कहा होया था, इसके संस्तापाक कोन है और इसके वर्तमान CEO कौन है? इन सबके बारे मे आपको सभी जानकारी मिल गई गोंगी।

गूगल के बारे मे अगर आपकी कोई राए या सुझाब हो तो कृपया comment के जरीए हमे सुचीत करे, और साथही हमारे नए articles को तुरन्त प्राप्त करने के लिए हमे Subscribe जरुर करे।

FAQs:

Q). गूगोल का वास्तविक अर्थ क्या है?

A). गूगोल एक बड़ी अंकगणितीय संख्या है जोकि 10 power to the 100 के बराबर है। यानि (1 googol =1.0 × 10100) और दशमलव संकेतन में, इसे अंक 1 के बाद सौ शून्य के रूप में लिखा जा सकता है।

Q). क्या Google का मुख्यालय भारत में है?

A). निश्चित रूप से, इसका भारत में अपना सहकारी कार्यालय है और वे चार प्रमुख शहरों यानी मुंबई, गुड़गांव, बैंगलोर और हैदराबाद में स्थित हैं।

Q). गूगल के वर्तमान CEO कौन है?

A). Sundar Pichai कंपनी के वर्तमान मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) हैं। पिचाई इसके सॉफ्टवेयर डिवीजन के कार्यभार को सम्भाले होये है। Pichai 2 अक्टूबर 2015 को कंपनी के सीईओ बने। वह भारतीय मूल के हैं और उनके पास कंपनी के सभी प्रकार के शेयर हैं; यानी क्लास ए, क्लास बी और क्लास सी स्टॉक।

Q). गूगल किस देश का है?

A). 2006 से इसका मुख्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका, उत्तरी कैलिफ़ोर्निया के माउंटेन व्यू में समुद्रतटीए एक शहर सैन फ्रांसिस्को में स्थित है।

About The Author

Author and Founder digipole hindi

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *