Hosting kya hota hai? What is Hosting in Hindi

87 / 100

आम तौर पर, जो लोग होस्टिंग के बारे में पता लगा रहे होते हैं, उनके लिए यह समझा जाता है कि शायद उनके पास एक व्यक्तिगत वेबसाइट शुरू करने की योजना है।

अगर आप भी ‘Hosting kya hota hai?’ इस पर शोध कर रहे हैं, तो शायद आप भी उन लोगो मे से है जो अपनी खुद की एक वेबसाइट बनाना चाहते है और अगर ऐसा है तो आप बिलकुल सही जगह पर हैं। आपकी वेबसाइट को www(वर्ल्ड वाइड वेब) पर लाइव करने के लिए आपके पास एक होस्टिंग का होना अनिवार्य है।

इस लेख में मैंने एक वेबसाइट की मेजबानी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी तैयार की है ताकि आप इसे अच्छी तरह से समझ सकें। इस लेख के मध्यम से में, आपको वास्तव में Hosting kya hota hai, आपको इसकी आवश्यकता क्यों है, और अपने ड्रीम प्रोजेक्ट के लिए एक होस्टिंग सेवा कैसे प्राप्त कर सकते हे, इसके बारे में पुरी जानकारी देने की कौशिश करुंगा।

इस लेख के मध्य तक Hosting kya hota hai इसके बारे मे अधिकतम अवधारणा आपको मिल जाएगी। तो, मेरे साथ बने रहिए और जानिए कि Hosting kya hota hai और इसे कैसे प्राप्त कर सकते हे?

Hosting kya hota hai?

Hosting kya hai? आसान भाषा मे कहा जाए तो, होस्टिंग एक ऐसा सेवा है जिसके माध्यम से एक व्यक्ति या संगठन को एक या एक से अधिक वेबसाइटों या संबंधित सेवाओं को अनलाइन पर बनाए रखने का एक भंडारण और कंप्यूटिंग संसाधन हैं। होस्टिंग एक वेब-आधारित सेवा हैं जो एक वेबसाइट या इसकी सेवाओ को इंटरनेट के माघ्धम से विश्व स्तर पर कही से भी देखे जाने की अनुमति देता हैं। एक होस्टिंग सेवा को वेब होस्टिंग या वेबसाइट होस्टिंग के नाम से भी जाना जाता है।

Hosting kya hota hai
Hosting kya hota hai

Read Also

Digital Marketing Kya Hai?Ise Kaise Kare?

जब कोई होस्टिंग provider अपकी वेबसाइट के फाइलों को स्टोर करने के लिए सर्वर पर स्थान आवंटित करता है, तो इसे एक वेबसाइट होस्ट करना कहलाता हैं। आमतौर पर, होस्ट किए गए उन फाइलों मे एक वेबसाइट कोड, चित्र, आदि जेसी और भी कई अहम चिजे शामिल होते है जोकि इसे ऑनलाइन पर उपलब्ध होने मे मदद करता है। दरसल, अनलाइन पर उपलब्ध हर एक वेबसाइट सर्वर पर होस्ट किया होता है। और एक होस्टिंग provider आपकी इस काम को आसान बनाते है।

Web Hosting kya hai? Explain in short

Web Hosting kya hota hai? संक्षेप में कहा जाए तो, वेब होस्टिंग वो है जो किसी वेबसाइट को वेब पर बनाए रखने के लिए जगह किराए पर लेने या खरीदने की एक प्रक्रिया है। दरसल, किसी भी वेबसाइट की सामग्री जैसेकि एचटीएमएल, सीएसएस, और छविया आदि को ऑनलाइन देखने योग्य बनाने के लिए सर्वर पर रखाना जरुरी होता है। Web Hosting kya hai? इसके बारे मे और अधिक जानकारी के लिए निचे दिए गए लिंक को जरुर फलो करे।

Read Also

Web Hosting क्या है? इसे कैसे खरीदें? Hosting types in hindi

Server क्या है?

Server क्या होता है? सर्वर एक विशिष्ट कंप्यूटर है जो दुनिया भर के इन्टरनेट उपयोगकर्ताओं को आपकी वेबसाइट से जोड़ने का काम करता है। एक वेब होस्टिंग सेवा प्रदाता कंपनी आपकी वेबसाइट को सर्वर पर सक्रिय रूप से स्थापित करने के लिए सभी जरूरी तकनिको से लेझ होती है। इन होस्टिंग सेवा प्रदाता कंपनीओ के पास विभिन्न प्रकार की होस्टिंग योजनाए होते है , जिनका इस्तेमाल एक छोटे ब्लॉग से लेकर एक बड़े संगठन तक आपनी आवश्यकताओं के अनुसार उन्है चुन सकते हैं। सर्वर से जुड़ै और अधिक जानकारी के लिए Web server क्या है? यह कैसे काम करता है? इस article को जरुर पढ़े।

Web Hosting के प्रकार

वेब होस्टिंग के प्रकार आम तौर पर उनके प्रदर्शन, आवंटित स्थान, साथ ही सेवा प्रदाताओं द्वारा प्रदान किए जाने वाले समर्थन से परिभाषित होते हैं। हालाँकि, विभिन्न प्रकार की वेब होस्टिंग हैं जो वेबसाइटों की विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कॉन्फ़िगर की गई हैं। यहाँ सबसे व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली वेब होस्टिंग सेवाओं के प्रकार दिए गए हैं।

  • Shared Web Hosting:- Shared hosting वो होता है जब एक ही सर्वर पर आपकी वेबसाइट के अलाबा कई अन्य वेबसाइटेंओ को भी एक साथ host किया जाता है। इस तरह के होस्टिंग पणाली मे resources आपस मे बटा होता है जिसके कारण वे काफी हद तक लागत प्रबाभी होते है।अधिकांश वेब होस्टिंग कंपनियां Shared hosting की पेशकस करती हैं। इसकी कम लागत और आसान सेट-अप पणाली के कारन यह उन नई साइट मालिको के लिए उपयुक्त होता है जो एक छोटे या मध्यम आकार के व्यवसाय से संबंधित वेबसाइट चलाना चाहते है। हलांकी, इस प्रकार की होस्टिंग सेवा के साथ आप बहुत अधिक ट्रैफ़िक की अपेक्षा नहीं कर सकते। ईसे व्यक्तिगत वेबसाइटों के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है।
  • VPS Hosting:- वर्चुअल प्राइवेट सर्वर (VPS) जिसे वर्चुअल डेडिकेटेड सर्वर (VDS) भी कहा जाता है। एक वर्चुअल सर्वर प्रत्येक क्लाइंट को एक समर्पित सर्वर के रूप में दिखाई पर सकता है, लेकिन वास्तव में वे एक साथ कई वेबसाइटों की मेजबानी कर रहा होता है। और इसी लिए, VPS होस्टिंग को shared hosting और dedicated hosting की बीच का प्लान माना जाता है।एक shared hosting और dedicated hosting मे मुख्य अंतर यह होता है कि ग्राहकों VPS होस्टिंग को कॉन्फ़िगर करने की पूरी आजादी होता है और यह काफी हद तक dedicated होस्टिंग के समान होता है।

अगर आप इसकी तुलना शेयर होस्टिंग से करते हैं, तो VPS होस्टिंग शेयर होस्टिंग की तुलना मे अधिक सुरक्षित और अच्छा प्रदर्शन करता है जो आपको केवल एक dedicated सर्वर के साथ ही मिल सकता है। और इसलिए, इसे dedicated सर्वर के छोटे पैमाने और सस्ते होस्टिंग समाधान के रूप में कहा जा सकता है।

Read Also

How to start Career in Digital Marketing? 8 steps in Hindi.

VPS होस्टिंग आमतौर पर उन वेबसाइटों के लिए एक अच्छा समाधान है, जिनका ट्रैफ़िक मध्यम स्तर का होता है और शेयर होस्टिंग संसाधनों की सीमा से अधिक होता है।

  • Dedicated Hosting:- Dedicated होस्टिंग को कभी-कभी प्रबंधित होस्टिंग या एक समर्पित सर्वर के रूप में जाता है। दरसल, इस प्रकार की होस्टिंग प्लान मे आपको पूरी सर्वर ही किराए पर प्रदान कर दिया जाता है। एक Dedicated होस्टिंग, शेयर होस्टिंग योजनाओं के तुलना मे काफी महंगी होते है और इसी कारण यह वास्तव में उन वेबसाइटो के लिए उपयुक्त होता है जिन्हे अधिक सर्वर नियंत्रण की आवश्यकता होती है या उन पर बहुत अधिक ट्रैफ़िक होता है। हलांकी इस तरह की होस्टिंग प्रणालियों को खुद से नियंत्रण करना होता और ये प्रक्रिया काफी जटिल होता है।इसे स्वयं प्रबंधित करने के लिए आपके पास तकनीकी ज्ञान का होना जरुरी है।
  • Cloud Hosting:- क्लाउड होस्टिंग नवीनतम होस्टिंग तकनीक है, और यह हाल के वर्षों में बेहद लोकप्रिय हो गई है। इस प्रकार की होस्टिंग कई इंटरकनेक्टेड वेब सर्वरों पर संचालित होते है जो इसे एक किफायती, स्केलेबल और विश्वसनीय वेब इंफ्रास्ट्रक्चर बनाते हैं। क्लाउड होस्टिंग योजना आम तौर पर असीमित डोमेनो को होस्टिंग करने के साथ साथ एक विश्वसनीय बैंडविड्थ और असीमित मात्रा में ष्टोरेज प्रदान करता हैं।

दरसल, क्लाउड होस्टिंग के साथ, आप केबल एक सर्वर का उपयोग नहीं करते है बल्कि क्लाउड में चलने वाले पूरी क्लस्टर का उपयोग करते हैं। और इस क्लस्टर के प्रत्येक सर्वर आपकी वेबसाइट की मेजबानी मे जुटे होते हैऔर आपकी वेबसाइट को हमेशा एक अप-टाईम प्रदान करता है।

जब क्लस्टर मे मौजुद सर्वरों में से कोई एक सर्वर बहुत व्यस्त होता है, तो क्लस्टर स्वचालित रूप से ट्रैफ़िक को कम व्यस्त बाले सर्वर पर पुनर्निर्देशित करता है। और नतीजतन, क्लाउड होस्टिंग बिना किसी डाउनटाइम के आपकी साइट के लिए हमेशा अच्छा प्रदर्शन बनाए रखता है और आपके वेबसाइट पर आने बाले आगंतुकों को एक अच्छा user experience प्रदान करता है। और इनी विशेषताओ के कारण आज हर बड़े व्यवसाय क्लाउड होस्टिंग की ओर रुख कर रहे हैं।

  • Reseller hosting:- Reseller होस्टिंग उन लोगों के लिए उपयोगी है जो एक web development एजेंसी चलाते हैं/अपने ग्राहकों के लिए वेबसाइट बनाते हैं। अपने क्लाइंट के साथ काम करते हुए वे एक वेब होस्टिंग की पेशकश कर सकते हैं। यह मूल रूप से एक सेवा प्रदाता से थोक मूल्य पर होस्टिंग खरीदने और फिर आवर्ती आय के बाद ग्राहकों को फिर से बेचने की एक प्रक्रिया है। लेकिन अगर आप शुरुआती लोगो मे से है , आपनी एक छोटी सी वेबसाइट बना रहे हैं और इसे अनलाइन होस्ट करना चाहते हैं तो, Reseller होस्टिंग आपके लिए मायने नहीं रखता।

Read Also

Domain Kya Hai? What is Domain in Hindi?

एक सही होस्टिंग प्लान कैसे चुनें?

हर कोई जो आपना एक ऑनलाइन उपस्थिति बनाना चाहता है, उसके पास एक विश्वसनीय Web Hosting का होना आवश्यक है। हलांकी ,आज अनलाइन पर सैकड़ों ऐसी वेब होस्टिंग कंपनी उपलब्ध हैं जो हर प्रकार की वेब होस्टिंग सेवाएं प्रदान करते हैं और इनमे सीमित विकल्पों के साथ मुफ्त योजनाओ से लेकर बड़ै संगठनों के लिए विशिष्ट महंगी वेब होस्टिंग सेवाए तक शामिल हैं। एक होस्टिंग योजना मुलत: इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपनी वेबसाइट से क्या अपेक्षा करते है और होस्टिंग के लिए आपने कितना बजट तय किया है।

एक सही होस्टिंग योजना का चयन करने का अर्थ ये होता है की उपयोगकर्ता आपकी संसाधनों तक कितनी जल्दी पहुँच प्राप्त कर सकता है ताकि आपकी वेबसाइट आपके आगंतुकों को जल्दी और मज़बूती से दिखे। चलिए एक उदाहरण से इस बात को समझ ने की कौशिश करे। हम सभी जानते है की तकनीकी युग की इस दौड़ में कितने ही व्यवसाय आज ऑनलाइन संचालित होते हैं और उनकी उत्पादों से लेकर व्यवसाय की पुरी जानकारी उनकी वेबसाइट पर उपलध्ब होते है।

Read Also

Domain Authority Kya Hai? D A Kaise Increase Kare?

अब मान लिजिए अगर कोई व्यक्ति ऐसी ही किसी वेबसाइट को visit करता है और इसे लोड होने में बहुत अधिक समय लग रहा है या बिल्कुल दिखाई ही नहीं दे रहा है ,तो जाहिर है ऐसे मे आपकी संभावित ग्राहक प्रतीक्षा नहीं करेंगे और आपकी साइट को छोड़ कर सही ढंग से काम करने वाली किसी और साइट की तलाश में जौड़ जाएंगे, जो आखिरकार आपकी व्यवसाय पर बुडा असर डालेगा।

अगर आप इस क्षेत्र मे नए हैं और एक वेबसाइट की संचालन के लिए ईच्छुक है, तो पेहले पेहल Web Hosting और इससे संबंधित शब्दवली आपको एक पेचीदा विषय लग सकता है। कभी कभी कई नौसिखिए वेबसाइट के मालिक बिना जानकारी जुटाए ऐसी कई तहत के सस्ते विकल्पो मे उलझ जाते है जिनको लेकर बाद मे उन्है पचताना परता है। साधारणसी बात है कि इतनी महंगी setup बाली होस्टिंग कंपनी आखिर क्यो अपकी एक होस्टिंग सेवा सस्ते या मुफ्त मे प्रदान करेगा।

वेबसाइट बनाने के लिए सही होस्टिंग प्लान कौन सा है?

जेसाकि अब तक हमने कोई प्रकार के होस्टिंग योजनाओं के बारे मे जाना। अब सबाल यह आता है कि इन सभी योजनाओं मे से आखिरकार एक सही होस्टिंग योजना कोनसा होगा ? तो इस सबाल का सीधा साधा जबाव यह है कि किसी भी बेव साइट के लिए होस्टिंग योजनाए आपनी जरुरतो पर निर्भर करता है। हर एक बेव साइट की आपनी अलग-अलग जरुरते होती है और उसी के आधार पर ही एक होस्टिंग योजना तय किया जाता है। जेसेकि किसी बेव साइट मे पेमेन्ट की सुविधाए उपलध्ब होती है और किसी-किसी मे ज्यादा इमेज एलिमेन्ट हौते है और इनके लिए उन्है अधिक संसाधनो की जरुरत होती है।

एक शुरुबाती ब्लॉगर लिए कौन सा Web Hosting प्लान सबसे best हैं?

अगर आप पहली बार आपनी वेबसाइट बनाने जा रहे हैं, और ब्लॉगिंग के जरिए सुरक्षित रुप से आपना income जेनरट करना चाहते तो एक shared होस्टिंग आपके लिए सबसे बढ़ीया प्लान होगा। दूसरी ओर, अगर आप अधिक अनुभवी उपयोगकर्ता हैं और आपको अपने कॉन्फ़िगरेशन पर पूर्ण नियंत्रण है, तो VPS होस्टिंग आपके लिए अधिक उपयुक्त विकल्प हो सकता है।

एक ब्लॉग बेवसाइट के लिए कौन सा वेब होस्टिंग provider चुनना सही रहेगा?

अगर आप पहली बर एक वेबसाइट पर काम करने की तैयारी कर रहे है, और किसी बेव साइट को अनलाइन पर केसे होस्ट किया जाता है , केसे WordPress को install और configure किया जाता है आपके पास इन सब की ज्यादा जानकारी नही है तो Hostinger की share hosting योजना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प होगा। क्योकि यह तुलनात्मक बहुत सस्ती हैं और साथही वो सभी सुविधाएँ प्रदान करता हैं जिनकी आपको आपनी वेबसाइट को बनाने के लिए आवश्यकता है। hostinger के साथ आप कुछ ही मिनटो आपना बैवसाइटको होस्ट कर सकते है।

Read Also

WordPress वेबसाइट कैसे वनाएं? (Step-By-Step Guide in hindi)

WordPress में Permalink क्या है?Permalink settings कैसे करें

About The Author

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, AdSense, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *