What is indexing in hindi? हर कोई चाहता है कि उनकी वेबसाइट को SERP में एक अच्छी रैंक मिले। जिससे वे आपने अनलाइन व्यावसाए को तेजी से बड़ा सके।

लेकिन ऐसा हो पाना तवि सम्भब हे जब गुगल का crawler या bot आपकी बेवपेजो को indexing के जरिए खोज इंजन परिणामो पर अच्छा पजिशन प्रदान करे।दरसल, Google के एल्गोरिदम उन पेजों को ज्यादा प्राथमिकता देते हैं जो users के लिए एक अच्छा user experience और quality content प्रदान करता हो।

इससे पहले कि आप रैंकिंग के बारे में अधिक चिंता करे , आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप Google के एल्गोरिदम और indexing के फान्डो को अच्छी तरह समझते है, ताकि आप अपनी साइट के लिए उच्च रैंक प्राप्त करने के लए सही दिशा मे काम कर सके।

इंडेक्सिंग क्या है?

वेबपेज इंडेक्सिंग इंटरनेट पर वेबपेजों की सामग्री को सूचीबद्ध करने की एक प्रक्रिया है। इसमें वेब पृष्ठ के बारे में पृष्ठ कि शीर्षक, पृष्ठ कि सामग्री, पृष्ठ के लेआउट, पृष्ठ के आकार, पृष्ठ के प्रकार और अन्य मेटाडेटा जैसी जानकारी एकत्र करना शामिल है।

यह जानकारी एक अनुक्रमणिका में संग्रहीत की जाती है, जिसका उपयोग आवश्यकता पड़ने पर किसी विशेष पृष्ठ के बारे में जानकारी खोजने के लिए किया जाता है।

Indexing in hindi

इंडेक्सिंग का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए भी किया जाता है कि खोज इंजन परिणाम पृष्ठों (SERPs) में कौन से पृष्ठ शामिल किए जाने चाहिए। ये खोज इंजनों को प्रासंगिक वेबपृष्ठों को तेज़ी से और सटीक रूप से ढूंढने में सहायता करता है, जो वेब पर जानकारी खोजने के दौरान उपयोगकर्ता अनुभव को बेहतर बनाता है।

indexing खोज परिणामों की प्रासंगिकता को बेहतर बनाने में मदद करता है, साथ ही यह सुनिश्चित करता है कि अधिक प्रासंगिक पृष्ठ SERPs में सबसे आगे दिखाई दें।

Indexing in hindi
Indexing in hindi

Webpage indexing क्यों महत्वपूर्ण है?

वेबसाइट Indexing वेबसाइट के मालिको, वेबमास्टरों और वेबसाइट विजिटर के लिए महत्वपूर्ण है। यह एक सर्च इंजन के इंडेक्स में वेब पेजों को जोड़ने की प्रक्रिया है ताकि उन्हें सर्च इंजन रिजल्ट पेजों (SERPs) में खोजा और रैंक किया जा सके।इंडेक्सिंग किसी वेबसाइट की दृश्यता में सुधार करता है जिससे खोज इंजन क्रॉलर के लिए उसकी सामग्री को खोजना और अनुक्रमित करना आसान हो जाता है।

अनुक्रमण किए बिना, किसी भी वेबपेज या वेबसाइट को इन्टरनेट पर खोजना सम्भब नहीं है। यह SERPs में वेबसाइट की रैंकिंग को बेहतर बनाने में मदद करता है, क्योंकि सर्च इंजन एल्गोरिदम इस बात का ध्यान रखता है कि वेबसाइट कितनी जल्दी इंडेक्स होती है।

ये वेबसाइट के विजिटरस को अधिक प्रासंगिक खोज परिणाम प्रदान करके उपयोगकर्ता अनुभव को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि खोज इंजन एल्गोरिदम वेबसाइट के पृष्ठों की प्रासंगिकता और गुणवत्ता निर्धारित करने के लिए इंडेक्सिंग डेटा का उपयोग करते हैं।

इंडेक्सिंग वेबसाइट के मालिकों को एसईओ और उपयोगकर्ता जुड़ाव के मामले में उनकी वेबसाइट के प्रदर्शन के बारे में अंतर्दृष्टि प्रदान करके उनकी वेबसाइट के प्रदर्शन को बेहतर ढंग से समझने में मदद करता है।

कुल मिलाकर, इंडेक्सिंग वेबसाइट के प्रबंधन का एक अनिवार्य हिस्सा है और इसे नियमित आधार पर किया जाना चाहिए। यह दृश्यता, रैंकिंग, उपयोगकर्ता अनुभव और वेबसाइट के प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है।

Google वेब पृष्ठों को कैसे इंडेक्स करता है?

Google वेबपृष्ठों को क्रॉल और अनुक्रमित करने के लिए “स्पाइडर” या “रोबोट” नामक स्वचालित प्रोग्राम के संयोजन का उपयोग करता है। रोबोट पृष्ठों के लिंक का अनुसरण करते हैं और उन पृष्ठों पर जाते हैं जिन्हें वे खोज रहे होते हैं। वे तब पृष्ठ कि सामग्री को एक विशाल डेटाबेस में संग्रहीत करते हैं।

इस डेटाबेस का उपयोग उपयोगकर्ताओं के प्रश्नों का त्वरित उत्तर देने के लिए किया जाता है।खोज क्वेरी के लिए पृष्ठ की प्रासंगिकता को निर्धारित करने के लिए Google एल्गोरिदम का उपयोग करता है। एल्गोरिदम पृष्ठ की सामग्री, पृष्ठ की ओर इशारा करने वाले लिंक की संख्या और पृष्ठ की ताजगी को ध्यान में रखते हैं।

यह विश्लेषण Google को यह निर्धारित करने में सहायता करता है कि कोई पृष्ठ उपयोगकर्ता की क्वेरी के लिए एक अच्छा मिलान है या नहीं।Google पृष्ठों को कैसे अनुक्रमित किया जाना चाहिए, इसके लिए भी नियम लागू करता है।

उदाहरण के लिए, यह शीर्षक या मेटा विवरण में एक निश्चित शब्द या वाक्यांश वाले पृष्ठों को प्राथमिकता देता है। Google यह भी देखता है कि पृष्ठ कितनी जल्दी लोड होता है, नेविगेट करना कितना आसान है, और इसमें कोई स्पैमयुक्त या दुर्भावनापूर्ण सामग्री है या नहीं।

अंत में, Google लगातार पृष्ठों को पुन: अनुक्रमित करता है। पुन: अनुक्रमित यह सुनिश्चित करने में सहायता करता है कि उपयोगकर्ता पृष्ठ के नवीनतम संस्करण तक पहुंच सकते हैं, जो खोज परिणामों को प्रासंगिक बनाए रखने में सहायता करता है।

वेबसाइट को इंडेक्स कैसे करें?

किसी वेबसाइट को अनुक्रमित करना यह सुनिश्चित करने की प्रक्रिया है कि आपकी वेबसाइट खोज इंजनों के लिए सुलभ है ताकि उपयोगकर्ता इसे इन्टरनेट पर ढूंढ सकें। ऐसा करने के लिए, आपको पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि आपकी वेबसाइट की संरचना खोज इंजन क्रॉलर के अनुकूल है। साथही इसमें यह सुनिश्चित करना भी शामिल है कि आपकी वेबसाइट पर सामग्री को ढूंढना और वर्गीकृत करना आसान है।

आप खोज इंजनों को यह समझने में सहायता के लिए कीवर्ड और मेटाडेटा का भी उपयोग कर सकते हैं ताकि आपकी वेबसाइट किस बारे में है इसका पता चल सके।

इसके अलाबा, वेबसाइट इंडेक्सिंग में मदद करने के लिए आप जिन अन्य तकनीकों का उपयोग कर सकते हैं, उनमें साइटमैप बनाना, अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में सबमिट करना और बैकलिंक्स का उपयोग करना शामिल है। ये विधियाँ आपकी वेबसाइट के खोज इंजन परिणामों में पाए जाने की संभावनाओं को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं।

वेबसाइट को इंडेक्स करने के बुनियादी कदम क्या हैं?

यहां विजिटर के बीच आपकी दृश्यता बढ़ाने के लिए किसी वेबसाइट को अनुक्रमित करने की बुनियादी कदम दिए गए हैं।

1. अपने खोजशब्दों पर शोध करें: Indexing कि प्रक्रिया शुरू करने से पहले, आपको उन खोजशब्दों पर शोध करने की आवश्यकता है जो आपकी सामग्री के लिए सबसे अधिक प्रासंगिक हैं। वे यह पहचानने में मदद करेगा कि लोग किन शब्दों को इन्टरनेट पर खोज रहे हैं, साथ ही आपको यह तय करने में मदद मिलेगी कि आप किन शब्दों को लक्षित करना चाहते हैं।

2. मेटा टैग बनाएं: मेटा टैग सर्च इंजन को आपकी वेबसाइट के बारे में अतिरिक्त जानकारी प्रदान करते हैं। इसमें पृष्ठ का शीर्षक, मेटा विवरण और कीवर्ड टैग शामिल हैं। सुनिश्चित करें कि ये टैग आपके सभी वेबपृष्ठों पर शामिल हैं।

3. वेबसाइट को सर्च इंजन में सबमिट करें: अपनी वेबसाइट को Google और बिंग जैसे सर्च इंजन में सबमिट करना आपकी वेबसाइट को इंडेक्स करने का सबसे अच्छा तरीका है। आप अपनी वेबसाइट को मैन्युअल रूप से सबमिट कर सकते हैं या इसके लिए आप Google Search Console जैसे टूल का उपयोग कर सकते हैं।

4. साइटमैप सेट करें: साइटमैप एक फ़ाइल है जो आपकी वेबसाइट पर सभी पृष्ठों को सूचीबद्ध करता है। आपको एक साइटमैप बनाना चाहिए और इसे सर्च इंजन में सबमिट करना चाहिए। इससे सर्च इंजन को आपकी वेबसाइट को और तेजी से इंडेक्स करने में मदद मिलेगी।

5. लिंक उत्पन्न करें: जब अनुक्रमण की बात आती है तो लिंक एक महत्वपूर्ण कारक होते हैं। अन्य वेबसाइटों से अपनी वेबसाइट के लिंक जेनरेट करना महत्वपूर्ण है। यह खोज इंजनों को आपकी वेबसाइट की गुणवत्ता निर्धारित करने और खोज परिणामों में इसे उच्च रैंक देने में मदद करेगा।

6. अपनी वेबसाइट का अनुकूलन करें: खोज परिणामों मे बेहतर प्रदर्शन के लिए अपनी वेबसाइट का अनुकूलन करना एक और महत्वपूर्ण कदम है। इसमें आपकी सामग्री, छवियों और कोड का seo अनुकूलित करना शामिल है। सुनिश्चित करें कि आपकी वेबसाइट सर्च इंजन में सबमिट करने से पहले ठीक से अनुकूलित है।

7. परिणामों की निगरानी करें: एक बार जब आप अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में सबमिट कर देते हैं, तो अपने परिणामों की निगरानी करना महत्वपूर्ण होता है। यह आपको किसी भी समस्या की पहचान करने में मदद करेगा जिसे संबोधित करने और आपकी वेबसाइट के प्रदर्शन को बेहतर बनाने मे आपकी मदद करेगा।

Google सर्च कंसोल के साथ वेबपेज को इंडेक्स कैसे करें?

Google सर्च कंसोल के साथ एक वेबपेज को इंडेक्स करने के लिए, आपको पहले एक Google खाता बनाना होगा और अपनी वेबसाइट को सर्च कंसोल में जोड़ना होगा। एक बार आपकी वेबसाइट सत्यापित हो जाने के बाद, आप अनुक्रमण के लिए अलग-अलग URL सबमिट कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए, ‘यूआरएल निरीक्षण’ टूल पर जाएं और उस वेबपेज का यूआरएल दर्ज करें जिसे आप अनुक्रमित करना चाहते हैं।

वेबपेज को इंडेक्स करने में Google को कुछ दिन लग सकते हैं। अपने अनुरोध की स्थिति की जांच करने के लिए, आप ”URL Inspection’ tool का उपयोग कर सकते हैं। यदि वेबपेज को अनुक्रमित किया गया है, तो आपको ‘URL is on Google’ कहने वाला एक संदेश दिखई देगा। इसके अतिरिक्त, आप अपनी वेबसाइट पर सभी अनुक्रमित पृष्ठों की सूची देखने के लिए ‘Coverage’ रिपोर्ट का भी उपयोग कर सकते हैं।

SERP में बेहतर प्रदर्शन कैसे प्राप्त करें?

search engine result pages (SERPs) में बेहतर प्रदर्शन पाने के लिए आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) पर ध्यान देने की जरूरत है। इसमें पैज कि शीर्षकों, विवरणों और खोजशब्दों को अनुकूलित करने के साथ-साथ यह सुनिश्चित करना भी शामिल है कि आपकी वेबसाइट ठीक से अनुक्रमित है और खोज इंजन एल्गोरिथ्म के सबी प्रथाओं का पालन करता है।

इसमें वेबसाइट की गति और मोबाइल रेसपनसिव में सुधार करना, छवियों, वीडियो और अन्य मीडिया का अनुकूलन करना शामिल है। इसके अतिरिक्त, प्रतिष्ठित स्रोतों से बैकलिंक बनाना, उच्च-गुणवत्ता वाली सामग्री बनाना और सोशल मीडिया पर अपने दर्शकों के साथ सक्रिय रूप से जुड़ना SERP रैंकिंग को बढ़ावा देने में मदद करता है।

अंत में, स्थानीय एसईओ का लाभ लेने और long tail keywords को लक्षित करने से आपको एसईआरपी में बेहतर परिणाम प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

Conclusion

webpage indexing वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन का एक अनिवार्य हिस्सा है। यह खोज इंजनों को वेबपृष्ठों को खोजने, क्रॉल करने और अनुक्रमित करने में सक्षम बनाता है, जिससे उपयोगकर्ता आसानी से अपनी वांछित सामग्री पा सकते हैं। यह वेबसाइटों को खोज इंजन परिणामों में उच्च रैंक करने और अधिक से अधिक उपयोगकर्ताओं के लिए दृश्यमान होने में भी मदद करता है।

अनुक्रमण उपयोगकर्ता अनुभव को बेहतर बनाने में मदद करता है और यह सुनिश्चित करता है कि वेबपृष्ठ इंटरनेट पर आसानी से उपलब्ध है। इसलिए, वेबसाइटों के लिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि उनकी पहुंच और दृश्यता को अधिकतम करने के लिए उनके वेबपृष्ठों को ठीक से अनुक्रमित किया गया हो।

About The Author

Author and Founder digipole hindi

Biswajit

Hi! Friends I am BISWAJIT, Founder & Author of 'DIGIPOLE HINDI'. This site is carried a lot of valuable Digital Marketing related Information such as Affiliate Marketing, Blogging, Make Money Online, Seo, AdSense, Technology, Blogging Tools, etc. in the form of articles. I hope you will be able to get enough valuable information from this site and will enjoy it. Thank You.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *